• Download Dailyhunt App

Sign UP / Sign In



 

Category

Home > Hindi > Paryavaran Pradushan : Ek Avlokan

Paryavaran Pradushan : Ek Avlokan ( पर्यावरण प्रदुषण : एक अवलोकन )

Author: मितु शर्मा

Hindi

190 ( 80% off)
38

  • My Rating


  • Review Title


  • Review Comment



To read this book you need to Download the Dailyhunt App on your phone. Available in Android, Windows & Iphone

पर्यावरण एक व्यापक शब्द है। यह उन सम्पूर्ण शक्तियों, परिस्थितियों एवं वस्तुओं का योग है जो मानव को परावृत करती है तथा उसके क्रिया-कलापों को अनुशासित करती हंै। पर्यावरण शिक्षा का सामान्य अर्थ उस शिक्षा से है, जो हमें अपने पर्यावरण के संरक्षण, सम्वर्द्धन तथा सुधार की समझ देती है। यह शिक्षा मनुष्य तथा प्रकृति के बीच सम्बन्धों की व्याख्या करती है। मनुष्य को प्रकृति से सीखने, प्रकृति के अनुसार अपने को ढ़ालने तथा प्रकृति को दूषित न करने की संचेतना पर्यावरण शिक्षा से प्राप्त होती है। पर्यावरण से सम्बन्धित हर प्रकार की मूल अवधारणाओं तथा समस्याओं की पहचान पर्यावरण शिक्षा कराती है तथा परिस्थितियों से सही समायोजन स्थापित करने की समझ से सम्बन्धित दृष्टिकोणों तथा कौशलों को विकास भी करती है। विस्तृत अर्थ मंे, समस्त प्रकार के पर्यावरणµभौतिक, सामाजिक तथा मानसिक आदि पर्यावरण शिक्षा के अन्तर्गत ही आते हैं।इस तरह जो कुछ भी हमारे चारों ओर विद्यमान है तथा यह हमारे रहन-सहन, दशाओं तथा मानसिक क्षमताओं को प्रभावित करता है, पर्यावरण कहलाता है। पृथ्वी के जिस भाग में जीवधारी रहते हैं, उसे जीवमण्डल कहते हैं। जीवमण्डल की माप लगभग स्थिर है। यह क्षेत्रा धरती से लगभग 16 किमी ऊँचाई तक फैला है और इसका क्षेत्राफल 45 करोड़ वर्ग किमी. है। जीवमण्डल में पृथ्वी (जमीन), वायु, जल, पेड़-पौधे और सभी जीव-जन्तु रहते हैं। जीवमण्डल धरती, वायु, ताप और जल से समृद्ध है और ये चारों ही जीव के अस्तित्व के लिए आवश्यक अंग हैं। बिना इनके कोई जीवधारी जीवित नहीं रह सकता। जनसामान्य के शब्दों में हमारी सम्पूर्ण पृथ्वी और उस पर उपस्थित प्रत्येक वस्तु हमारा पर्यावरण है। पर्यावरण में वे सभी परिस्थितियाँ भी आती हंै, जो हमारे जीवन पर प्रभाव डालती हैं। हमारा घर, मौहल्ला, गांव, शहर या नगर सभी हमारे पर्यावरण के अंग हैं क्योंकि वे सभी हमारे जीवन पर प्रभाव डालते हैं। ‘पर्यावरण’ मानव जीवन के प्रत्येक क्षेत्रा में समाविष्ट है।

  • Release Date:
  • Book Size: 1 MB
  • Language: Hindi
  • Category: Anya

    Be the first to rate




Top

If you want to read ebooks please download our app in your favorite mobile