Monday, 19 Aug, 9.20 am Janman TV

खबर
पहले बेइज़्ज़त कर घर से निकाला फिर मायके जाकर दो सगी बहनों को दिया तीन तलाक

तीन तलाक को लेकर भले ही केंद्र सरकार द्वारा कड़े कानून लागू कर दिए गए हों। मगर, इस कानून के लागू होने के बावजूद कुछ लोगों में इसका खौफ दिखाई नहीं दे रहा। ऐसा ही एक मामला भावनपुर थाना क्षेत्र के सामने आया है, जहां दो सगे भाइयों ने अपनी बीवियों दो सगी बहनों को मायके में ही जाकर तीन तलाक का हुकुम तामील कर दिया। पीड़ित महिलाओं ने सोमवार को एसएसपी से गुहार लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है।

लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र की रहने वाली दो सगी बहनें अंजुम और तबस्सुम की शादी वर्ष 2016 में ब्रह्मपुरी के जाटव गेट निवासी सरताज और उसके भाई फराज के साथ हुई थी। पीड़ित महिलाओं का आरोप है कि दहेज की मांग को लेकर अक्सर उनके ससुराल वाले उन्हें प्रताड़ित किया करते थे। मारपीट के साथ-साथ कई बार छत के जाल में करंट छोड़कर ससुराल वालों ने दोनों बहनों की हत्या का प्रयास भी किया। मगर जब इसमें असफल रहे तो वर्ष 2017 में दोनों बहनों को तबस्सुम के दुधमुंहे बच्चे समेत घर से बाहर निकाल दिया। पीड़ित बहनों ने बताया कि इस मामले में उन्होंने अपने ससुराल वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था, जो अदालत में विचाराधीन है।

पीड़ित बहनों का आरोप है कि रविवार की शाम उनके शौहर और ससुराल वाले उनके घर पर आए और उन पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया। इसी के साथ उन्हें यह भी बताया कि अब उनके पतियों को उनकी जरूरत नहीं है, क्योंकि उन्होंने दूसरी शादी कर ली है। इतना ही नहीं आरोपितों ने दोनों बहनों के साथ मारपीट करते हुए उन्हें तीन बार तलाक बोलकर उनसे किनारा कर लिया। पीड़ित महिलाओं ने सोमवार को एसएसपी कार्यालय में शिकायत करते हुए आरोपित पतियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसएसपी अजय साहनी ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Janman TV
Top