Monday, 13 Jul, 6.30 pm Lokmat News

राजनीति
पीएम मोदी करते हैं शरद पवार का सम्मान, केंद्रीय मंत्री आठवले ने कहा-एनडीए में आइये, देश और महाराष्ट्र दोनों को लाभ

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के अध्यक्ष रामदास आठवले ने सोमवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता शरद पवार से अनुरोध किया कि वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल हो और महाराष्ट्र में उनकी पार्टी और भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाएं।

राकांपा अभी कांग्रेस और शिवसेना के साथ गठबंधन में महाराष्ट्र में सरकार चला रही है। ट्विटर पर डाले गए एक वीडियो में आठवले ने कहा कि कांग्रेस और शिवसेना के साथ राकांपा का गठबंधन उसके लिये फायदेमंद नहीं है। उन्होंने वीडियो में कहा. 'राकांपा के शिवसेना को समर्थन देने के फैसले से उसको कोई फायदा नहीं होने वाला।

अगर पवार साहेब (राकांपा अध्यक्ष शरद पवार) देश का विकास और महाराष्ट्र के विकास के लिये केंद्र से और कोष चाहते हैं तो उन्हें (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी जी के समर्थन का फैसला लेना चाहिए और उन्हें राजग में शामिल होने के बारे में सोचना चाहिए।'

आठवले ने कहा, 'अगर यह महाराष्ट्र में होता है तो भाजपा, आरपीआई और राकांपा गठबंधन बना सकते हैं।' सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री आठवले ने कहा, '.तब यहां (महाराष्ट्र) सरकार अच्छे से चलेगी और केंद्र महाराष्ट्र के विकास के लिये और धन आवंटित करेगा। यह शरद पवार से मेरा अनुरोध है कि वो राजग में शामिल होने के बारे में फैसला लें।'

महाराष्ट्र और देश दोनों के विकास में लाभ मिलेगा

आरपीआई (ए) के प्रमुख एवं केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने सोमवार को राकांपा प्रमुख शरद पवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल होने का सुझाव दिया और कहा कि उनके (पवार) अनुभव से महाराष्ट्र और देश दोनों के विकास में लाभ मिलेगा।

आठवले ने अपने बयान में कहा कि पवार को प्रधानमंत्री मोदी के साथ आ जाना चाहिए। दोनों नेताओं के बीच अच्छे रिश्ते हैं और प्रधानमंत्री मोदी, पवार का सम्मान भी करते हैं। हाल में चीन से जुड़े मुद्दों सहित कई विषयों पर पवार ने भी सकारात्मक रुख व्यक्त किया है।

उन्होंने कहा कि ऐसे में पवार के राजग में शामिल होने से उनके अनुभव का देश और महाराष्ट्र दोनों को लाभ मिलेगा। आरपीआई प्रमुख ने कहा कि यह उनकी निजी राय है, लेकिन अवसर आने पर वे इस बारे में राकांपा नेता से बात कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होता है तो महाराष्ट्र में भाजपा, राकांपा और आरपीआई की महायुति बनेगी।

अमित शाह ने अपने निर्वाचन क्षेत्र गांधीनगर में कोविड-19 संबंधी हालात की समीक्षा की

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र गांधीनगर में कोविड-19 संबंधी हालात की समीक्षा के लिए सोमवार को बैठक की। वीडियो कांफ्रेंस के जरिए की गई बैठक में गांधीनगर के जिलाधिकारी कुलदीप आर्य, जिला विकास अधिकारी शालिनी दुहान और गांधीनगर नगरपालिका आयुक्त रतनकंवर गढ़विचारन भी शामिल हुए। आर्य ने बैठक के बाद बताया कि शाह ने मुख्य रूप से कोरोना वायरस संबंधी ताजा स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने संक्रमण और इसे रोकने के लिए गांधीनगर प्रशासन द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी मांगी।

उन्होंने 'पीटीआई भाषा' से कहा, ''शाह ने हमसे कहा कि यदि हमें संक्रमण से निपटने को लेकर किसी भी प्रकार की परिवहन संबंधी सहायता या इंजेक्शन, टीकों, जांच किट या नई स्वास्थ्य सेवा सुविधाओं की आवश्यकता है, तो हम उनसे संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने हमसे उन लोगों की त्वरित जांच करने को कहा, जिनके संक्रमित होने का संदेह है।''

आर्य ने कहा, ''केंद्रीय मंत्री ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में विभिन्न सरकारी योजनाओं के समय पर एवं प्रभावी क्रियान्वयन पर जोर दिया और हमसे कहा कि वह समय-समय पर इसकी समीक्षा करेंगे।'' शाह ने अधिकारियों से 'सांसद आदर्श ग्राम योजना' के तहत गांधीनगर निर्वाचन क्षेत्र में चुने गए पांच गांवों का दौरा करने और उनके समग्र विकास की योजना तैयार करने को कहा। आर्य ने बताया कि जिले में संक्रमण के अब तक 934 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 590 मामले गांधीनगर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के तहत आने वाले क्षेत्रों में सामने आए हैं।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Lokmat News Hindi
Top