Tuesday, 29 May, 12.22 pm

मुजफ्फरनगर
सांसारिक सुख क्षणिक अनुभूति है: सत्यार्थी

मुजफ्फरनगर। श्री नंगली साहिब के स्वामी केशवानंद सत्यार्थी महाराज ने कहा कि सुख क्षणिक अनुभूति है, महापुरुषों और गुरुओं के बताये मार्ग पर चलकर ही आनंद की प्राप्ति होती है। गांधी कालोनी स्थित गांधी वाटिका में श्री सत्यार्थी ज्ञान यज्ञ आध्यात्मिक प्रवचन का आयोजन किया गया। केशवानंद सत्यार्थी ने कहा कि संसारद का प्रत्येक मानव सुख, वैभव, ऐश्वर्य आदि की खोज करता रहता है, जिससे की वह अपने जीवन में आनंद प्राप्त कर सके, किंतु यहीं से मनुष्य जीवन की भूल शुरू हो जाती है, क्योंकि वह जिसे सुख समझता है, वह सुख क्षणिक है। वास्तविक आनंद की प्राप्ति महापुरुषों एवं अपने गुरू के बताये मार्ग पर चलकर ही हो सकती है। प्रवचन से पूर्व संत दिव्या नंद सत्यार्थी ने सुंदर भजनों के माध्यम से गुरू महिमा का गुणगान किया। मिशन के प्रचारक एवं कार्यक्रम संयोजक एसके तायल ने बताया कि इस कार्यक्रम में नंगली से संत, विद्वान एवं दिल्ली, गाजियाबाद आदि क्षेत्रों से संगत शामिल हुई। इस अवसर पर महेश गौतम, विवेक चुग्घ, प्रेमी छाबड़ा, बीके गुप्ता, राजकुमार सिंघल, पवन मंगल, ईश्वर चंद, मदन तायल, आलोक, संजीव गर्ग, विनय, ऋषि पुरी, अनुज, शशी तायल, सरोज धीमान, रश्मि तायल, भारती तायल, अंजली, डॉ निधि का सहयोग रहा।

डॉ निधि अग्रवाल ने नि:शुल्क रक्त जांच शिविर लगाया।
Dailyhunt
Top