Wednesday, 27 Jan, 10.39 pm 5 Dariya News

राष्ट्रीय समाचार
राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह मोहाली में किया गया आयोजित

72वें गणतंत्र दिवस के मौके पर मोहाली में राज्य स्तरीय समारोह करवाया गया। पंजाब के राज्यपाल श्री वीपी सिंह बदनौर ने डीजीपी पंजाब श्री दिनकर गुप्ता, मुख्य सचिव विनी महाजन, जिला और सैशन जज आर.एस. राय, डिप्टी कमिशनर गिरीश दियालन और अन्य आदरणियों की हाजिरी में सरकारी कालेज फेज़-6 में स्टेडियम में तिरंगा लहराया।सभी को बधाई देते हुये उन्होंने स्वतंत्रता संग्रामियों और फौजियों के बलिदानों को याद किया जिन्होंने राष्ट्र के लिए अपनी जानें कुर्बान की और भारतीय संविधान के निर्माताओं का धन्यवाद भी किया जिनकी दूरदर्शी के कारण ही हम आज विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र और गणतंत्र के तौर पर उभरे हैं।'खुशहाली और हरियाली' के प्रति पंजाबियों के योगदान की सराहना करते हुये राज्यपाल ने कहा कि पंजाब खुशहाली और हरियाली के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है और उन्होंने उम्मीद की कि आने वाले समय में पंजाब के लोग शांतिपूर्ण ढंग से इसको बनाई रखेंगे।उन्होंने कहा कि पंजाब के किसानों ने कृषि उत्पादन और राज्य के विकास में बहुत बड़ा योगदान डाला है। उन्होंने आगे कहा कि मुझे उम्मीद है कि किसानों की मुश्किलों को जल्द ही बातचीत के द्वारा हल किया जायेगा। मैं उन किसानों को श्रद्धांजलि भेंट करता हूँ जिन्होंने अपनी जान गवाई है और उनके परिवारों के साथ हमदर्दी प्रकट करता हूं।हमें मान है कि पंजाब राज को जय जवान, जय किसान का एक प्रतीक माना जाता है। उन्होंन कहा कि पंजाब के लोगों ने हमेशा भारत की तरक्की में अपना विशेष योगदान डाला है।

उन्होंने कहा कि पंजाब गुरूओं, संतों और पीरों की धरती है जिन्होंने हमेशा हमें प्रेरित किया और मार्गदर्शन किया है। हम सभी मान महसूस करते हैं कि इस साल श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व को भी उसी श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाया जा रहा है जैसे कि हम पिछले साल श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व मनाया था।कोविड 19 संबंधी बोलते हुये राज्यपाल ने कहा, 'विश्वव्यापी महामारी के विरुद्ध भारत की लड़ाई एक नाजुक मोड़ पर पहुँच गई है। सेहतमंद, कोविड मुक्त भारत की मुहिम को प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों के कारण देश में बनाऐ गए टीके को मंजूरी मिलने से और मजबूती मिली है। मैं इस मुहिम में शामिल सभी वैज्ञानिकों और खोजकर्ताओं को बधाई देता हूँ।' कोरोना वायरस महामारी के दौरान हम ग्लोबल आर्थिकता में महत्वपूर्ण योगदान डालने में सफल रहे हैं। आत्म निर्भर भारत को भी भरपूर समर्थन मिला है। देश निवासियों का मन और धारणा स्वदेशी सामान की तरफ बढ़ रही है। उन्होंने आगे कहा कि आज भारत ने विश्व भर में अपनी अलग पहचान बना ली है।'नानक नाम चढ़दी कला, तेरे भाने सरबत दा भला' के साथ समाप्ति करते हुये राज्यपाल ने उम्मीद जताई कि हम एक नयी सोच, नये विचार, देशभगती और समर्पण के साथ पंजाब और देश को और मजबूत करने के लिए यतनशील रहेंगे।इससे पहले राज्यपाल ने डीएसपी रुपिन्दरदीप कौर सोही के नेतृत्व अधीन पंजाब पुलिस (पीआरटीसी जहानखेलां), यूटी (चण्डीगढ़) पुलिस, पंजाब पुलिस के ब्रास एंड पाईप बैंड और एनसीसी कैडेटों की एक प्रभावशाली परेड से सलामी ली। इस मौके पर सामाजिक मुद्दों को दर्शाती झांकियां भी निकाली गई। महत्वपूर्ण बात यह रही कि पूरे गणतंत्र दिवस परेड में सिर्फ एक ही महिला भागीदार थी जिसने परेड कमांडर की सबसे अहम भूमिका निभाई।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: 5 Dariya News Hindi
Top