Saturday, 18 Jan, 6.30 pm अपनी रसोई

होम
अपने बालों के समस्या ख़तम करे। घरेलु उपाय से

बाल (Hair) स्तनधारी प्राणियों के बाह्य चर्म का उद्वर्ध (outer growth) है। कीटों के शरीर पर जो तंतुमय उद्वर्ध होते हैं, उन्हें भी बाल कहते हैं। बाल कोमल से लेकर रुखड़ा, कड़ा (जैसे सूअर का) और नुकीला तक (जैसे साही का) होता है। प्रकृति ने ठंडे गर्म प्रभाव वाले क्षेत्रों में बसने बाले जीवों को बाल दिये हैं, जो जाडे की ॠतु में ठंड से रक्षा करते है और गर्मी में अधिक ताप से सिर की रक्षा करते हैं। जब शरीर से न सहने वाली गर्मी पडती है, तो शरीर से पसीना बहकर निकलता है, वह बालों के कारण गर्मी से जल्दी नहीं सूखता है, किसी कठोर वस्तु से अचानक हुए हमला से भी बाल बचाव करते है।
आज कल की भाग डोर भरी जिंदगी में हमें अपनी ओर ध्यान ही नहीं रहता। और आज कल की जलबायु इतनी ख़राब हो रहा हे कि उसित समय से पहले बालो का झढ़ना आम बात हो गया हे। लगभग हर कोई इस परिसानी से पीढ़ित हो रहा हे। इसीलिए हम आपलोगो के लिए कुछ ऐसे उपाय लेके आए जो आपके बालो का झढ़ना और साथ ही डेंड्रफ की समस्या और बालो का पकना इन सारि समस्या को जड़ से ख़तम कर देंगे।
बालो का झढ़ना:-
1. दो सम्मस मीठी गोटी एक काप पानी में रात को भिगोकर रखे और सुबह उसे अछि तरह से पीसकर माथे पर लगाए और एक घंटे के बाद उसे धो डाले। ऐसा करने से बालो का झढ़ना काम होगा।
2. पास जबा फूल और 5 जबा फूल के पत्ते 25 ग्राम नारियल तेल के साथ पीसकर माथे पे लगाए और 1 घंटे बाद सिर्फ ठंडी पानी से धो डाले। ऐसा एक सप्ताह में दो से तीन बार एक महीने तक करने से आपका बाल बापस आएंगे।
बालो का झढ़ना , पकना और डेंड्रफ की समस्या :-
1. 100 ग्राम अचे नारियल की तेल के साथ 5 ग्राम कर्पूर मिलकर रखे। और हर दिन नाहने के बाद और रत को सोने से पहले अपने माथे में अछि तरह से मालिस करदे। ऐसा एक सप्ताह तह करने से आपके ये तीनो समस्या दूर हो जायेंगे।
2. 100 ग्राम नारियल तेल के साथ एक गोल नेमु के रस मिलकर दिन में दो बार अपने माथे में लगाए।
Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Apani Rasoi
Top