Wednesday, 18 Mar, 4.30 pm अपनी रसोई

होम
रात को सोने से पहले पिएं हल्दी वाला दूध, समाप्त हो जाएंगे ये 3 गंभीर रोग

हल्दी (टर्मरिक) भारतीय वनस्पति है। यह अदरक की प्रजाति का 5-6 फुट तक बढ़ने वाला पौधा है जिसमें जड़ की गाठों में हल्दी मिलती है। हल्दी को आयुर्वेद में प्राचीन काल से ही एक चमत्कारिक द्रव्य के रूप में मान्यता प्राप्त है। औषधि ग्रंथों में इसे हल्दी के अतिरिक्त हरिद्रा, कुरकुमा लौंगा, वरवर्णिनी, गौरी, क्रिमिघ्ना योशितप्रीया, हट्टविलासनी, हरदल, कुमकुम, टर्मरिक नाम दिए गए हैं।
जब भी किसी को चोट लग जाती है या बॉडी में किसी प्रकार का दर्द होता है तो हमारे घर के बुजुर्ग हल्‍दी वाला दूध पीने की सलाह देते हैं। घावों का इलाज करने, इम्‍यूनिटी बढ़ाने और थकावट को दूर करने के लिए हल्‍दी वाला दूध पीने की सलाह दी जाती है। दूध हमारे शरीर के लिए बेहद ही फायदेमंद होता है। दूध जहां कैल्शियम से भरपूर होता है वहीं दूसरी तरफ हल्दी में एंटीबायोटिक होता है ऐसे में दोनों को एक साथ सेवन में कर लिया जाए तो इसके फायदे भी दुगने होते हैं।
यह है वह तीन गंभीर रोग-
1) शरीर के दर्द में हल्दी वाला दूध आराम देता है। हाथ पैर व शरीर के अन्य भागों में दर्द की शिकायत होने पर रात को सोने से पहले हल्दी वाले दूध का सेवन करें।
2) हल्दी वाले दूध के सेवन से गठिया का निदान होता हैं। साथ ही इसका रियूमेटॉइड गठिया के कारण होने वाली सूजन के उपचार के लिये प्रयोग किया जाता है। यह जोड़ो और मांसपेशियों को लचीला बनाता है जिससे दर्द की समस्या दूर हो जाती है।
3) हल्दी वाले दूध पीने से त्वचा में भी निखार आता है। जी हां, क्योंकि इसमें एंटीसेप्टिक व एंटीबैक्टीरियल जैसे गुण मौजूद होते हैं जो स्किन से संबंधित सभी रोगों जैसे इन्फेक्शन, खुजली, मुंहासे आदि को आपकी त्वचा से दूर भगाते हैं और उनके बैक्टीरिया को खत्म करते हैं, जिससे आपकी स्किन चमकदार होती है।
Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Apani Rasoi
Top