Saturday, 28 Mar, 9.05 pm Asiaville

होम
जान सिर्फ़ कोरोना नहीं लेता, ग़रीबी भी लेती है, मुरैना के लिए पैदल जा रहे युवक की मौत

पूरी दुनिया कोरोनावायरस की चपेट में आ गई है. भारत में भी यह तेजी से फैलने लगा है. जिससे निपटने के लिए देशभर में इस समय लॉकडाउन चल रहा है. लेकिन यह लॉकडाउन उन लोगों की जिंदगी पर भारी पड़ने लगा है, जो रोजगार गंवाने के बाद बड़े शहरों को छोड़कर पैदल ही घर लौट रहे हैं. आगरा में दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है.

लॉकडाउन में दिल्ली से पैदल मध्य प्रदेश के मुरैना जा रहे एक युवक की शनिवार सुबह सिकंदरा के कैलाश मोड़ पर हालत बिगड़ गई. सूचना पर पहुंची पुलिस उसे अस्पताल लेकर आई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया गया. परिजनों को सूचना दे दी गई है.

यह भी पढ़ेंः दिल्ली और नोएडा से लोगों को निकालने के लिए 1 हजार बसें चला रहा है यूपी रोडवेज

बता दें, मृतक रघुवीर पुत्र राम लाल (40) निवासी गांव बरफड़ा, मुरैना का रहने वाला था. दिल्ली के तुगलकाबाद में एक रेस्टोरेंट में काम करता था. यह रेस्टोरेंट्स फूड सर्विस से जुड़ा हुआ है. रघुवीर डिलीवरी ब्वॉय का काम करता था. लॉकडाउन के बाद घर लौट रहा था.

साधन नहीं होने की वजह से रघुवीर पैदल ही घर वापस जा रहा था. वह दिल्ली से अपने घर के लिए दो साथियों संजय व एक अन्य के साथ चल दिया. शनिवार सुबह पांच बजे सिकंदरा के कैलाश मोड़ पर गुप्ता हार्डवेयर के सामने पहुंचते ही अचानक उसके सीने में दर्द हुआ.

हार्डवेयर शॉप मालिक वहां पर खड़े थे. उन्होंने उसको परेशान देखा तो पास पहुंचे. रघुवीर ने उन्हें सीने में दर्द होने की बात कही. उन्होंने सोचा कि पैदल चलने की वजह से हो रहा होगा. दुकान के सामने तिरपाल बिछाकर उन्होंने आराम करने को कह दिया.

यह भी पढ़ेंः गांव लौट रहे मजदूर हो रहे हादसों के शिकार, 11 की मौत

घर से चाय और बिस्कुट लाकर उसे खिलाए. इसके बाद तबियत बिगड़ती गई. उसने अपने साले से फोन पर बात की. साले ने कहा कि पुलिस को फोन मिलाओ, लेकिन तब तक उसकी हालत बिगड़ गई. एक राहगीर मदद के लिए आया. लेकिन रघुवीर सड़क पर गिर पड़ा तो दोबारा उठ नहीं पाया.

इतने में पुलिस को भी सूचित किया गया. पुलिस उसको अस्पताल लेकर पहुंची, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. थाना सिकंदरा के प्रभारी निरीक्षक के अनुसार आशंका है कि हार्ट अटैक से मौत हुई है.

हजारों मजदूर घरों को पैदल लौटने को मजबूर

कोरोना वायरस से जंग में देश में लॉकडाउन होने के बाद बड़े शहरों से हजारों मजदूर अपने घर लौट रहे हैं. कोई वाहन नहीं चलने की वजह से उन्हें पैदल ही आना पड़ा रहा है. इससे काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Asia Ville Hindi
Top