Thursday, 05 Dec, 6.50 pm Asiaville

होम
उन्नाव गैंग रेप केस पर योगी के मंत्री का बयान: 100% क्राइम रोकने की गारंटी भगवान राम भी नहीं दे सकते

बीजेपी के कई नेता हाल के दिनों में उल-जुलूल बयान देकर विवादों में घिरे हैं. अब इस सिलसिले में एक और नेता का नाम जुड़ा है. उन्नाव गैंग रेप मामले में उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ़ धुन्नी सिंह ने कहा है कि 100 फ़ीसदी अपराध ना होने की गारंटी तो भगवान राम भी नहीं ले सकते.

आपको बता दें कि उन्नाव गैंग रेप की पीड़िता को ज़मानत पर छूटे आरोपी ने बाक़ी लोगों के साथ मिलकर आज सुबह ज़िंदा जलाने की कोशिश की. युवती 90 फ़ीसदी जल चुकी हैं और बेहद गंभीर हालात में वो अस्पताल में भर्ती हैं. इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है.


इसी मामले पर जब रणवेन्द्र सिंह से सवाल पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया, "जब समाज है तो समाज में ये कह देना कि 100 परसेंट क्राइम नहीं होगा. ये श्योरिटी तो मुझे नहीं लगता कि भगवान राम भी दे पाएंगे. 100 परसेंट नहीं है, लेकिन ये ज़रूर है कि अगर क्राइम हुआ है तो सज़ा मिलेगी. जेल जाएगा."

असल में उन्नाव गैंग रेप मामले में यूपी सरकार से सवाल-जवाब किए जा रहे हैं क्योंकि जिन लोगों ने युवती को ज़िंदा जलाने की कोशिश की, उनमें गैंग रेप जैसे जघन्य अपराध को अंजाम देने वाले दो आरोपी भी शामिल हैं. एक आरोपी ज़मानत पर बाहर निकला है, जबकि दूसरा शुरू से ही फ़रार है.

युवती ने मार्च 2019 में इन दोनों पर गैंग रेप का आरोप लगाया था. आज इसी मामले की सुनवाई के लिए युवती स्थानीय अदालत जा रही थीं जब पांच लोगों ने मिलकर उन्हें ज़िंदा जलाने की कोशिश की. सवाल ये पूछे जा रहे हैं कि एक आरोपी अब तक फ़रार कैसे था और दूसरे को जेल में बंद रखने के लायक़ पुलिस ने पर्याप्त सबूत क्यों नहीं अदालत में पेश किए.

उत्तर प्रदेश में खाद्य, रसद और नागरिक आपूर्ति राज्यमंत्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह ने आगे कहा कि योगी और मोदी सरकार में आरोपियों को कोई संरक्षण नहीं मिलता, जबकि पूर्ववर्ती सरकारों में आरोपियों पर कोई नकेल नहीं कसी गई थी.

बता दें कि मंत्री जी गुरुवार को बाराबंकी जिले में एक विभागीय समीक्षा बैठक में भाग लेने पहुंचे थे, तभी उन्होंने ये बात कही. उन्नाव गैंग रेप केस में पुलिस की भूमिका पर पहले भी सवाल उठे हैं. साथ ही, पीड़ित को सुरक्षा मुहैया नहीं कराए जाने को लेकर भी सरकार से सवाल पूछे जा रहे हैं.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Asia Ville Hindi
Top