Monday, 01 Jun, 8.57 pm CN24 News Hindi

होम
इस्लामिक सेंटर की सलाह- मस्जिदों से कालीन हटाएं, हर नमाजी मास्क पहने, एकदूसरे से 6 फीट का फासला रखे और गले न मिले

  • केंद्र सरकार ने शर्तों के साथ 8 जून से देशभर में धार्मिक स्थलों में पूजा-पाठ की मंजूरी दे दी है
  • इस्लामिक सेंटर ने कहा- 10 साल से कम उम्र के बच्चे, 65 साल से ऊपर के बुजुर्ग मस्जिद जाने से बचें
यह उत्तर प्रदेश के लखनऊ में शिया मस्जिद का एक पुराना फोटो है।

सीएन 24

लखनऊ. केंद्र सरकार ने 8 जून से सभी धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला लिया है। इसमें मस्जिदें भी शामिल हैं। केंद्र के फैसले के मद्देनजर इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने सोमवार को एडवायजरी जारी की। इसमें मस्जिदों से कालीन हटाने, नमाजियों को मास्क पहनने जैसी सावधानियां बरतने को कहा गया है।

एडवायजरी में नमाज के दौरान 6 फीट का फासला रखने और गले ना मिलने की हिदायत भी दी गई है। इसमें कहा गया कि 10 साल से छोटे बच्चे और 65 साल से ऊपर के बुजुर्ग मस्जिदों में जाने से बचें। वे घर पर ही नमाज अदा करें।

एडवायजरी के बाद 15 दिन हालात पर नजर रखी जाएगी
इस्लामिक सेंटर के चेयरमैन मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने एडवायजरी जारी करते हुए कहा कि इस एडवायजरी के बाद 15 दिन तक हालात पर नजर रखी जाएगी। अगर जरूरत पड़ी तो दोबारा एडवायजरी जारी की जा सकती है।

मस्जिदों में नमाज के लिए 14 प्वाइंट की एडवायजरी
1. मस्जिदों में किसी भी समय भीड़ ना जमा होने दें।
2. 10 वर्ष से कम और 65 वर्ष से आयु वाले मस्जिदों में ना जाए। वे घर पर नमाज अदा करें।
3. मस्जिदों में फर्ज की नमाज अदा की जाए। सुन्नतें और नफल लोग घर पर अदा करें।
4. मस्जिदों में हर नमाज के वक्त लोगों को 4 हिस्सों में बांटा जाए। 15-15 मिनट के अंदर ये लोग नमाज अदा करें। इस दौरान पहले हिस्से में नमाज तय समय पर खत्म की जाए ताकि बाद में नमाज पढ़ने वाले लोगों को दिक्कत ना हो।
5. जुमे की नमाज के लिए भी यही व्यवस्था की जाए। लोगों को 4 हिस्सों में बांट दिया जाए।
6. जुमे का खुतबा छोटा कर दिया जाए। उर्दू में तकरीर न की जाए।
7. वुजू घर से करके ही लोग मस्जिदों में जाएं।
8. नमाज मास्क लगाकर ही अदा की जाए।
9. नमाज के दौरान नमािजयों के बीच 6 फीट का फासला होना चाहिए।
10. मस्जिदों से चटाइयां और कालीन हटा दिए जाएं। हर नमाज से पहले फर्श फिनायल या डेटॉल से साफ किया जाए। फर्श पर ही नमाज पढ़ी जाए।
11. वुजूखाने में साबुन रखा जाए और वुजू करते वक्त साबुन से हाथ धोना जरूरी है।
12. मस्जिदों में रखी हुई टोपियों का इस्तेमाल ना किया जाए। नमाजी घर से ही अपनी टोपी लेकर जाएं।
13. मस्जिदों में दाखिल होते वक्त और बाहर आते वक्त भीड़ ना लगाई जाए।
14. मस्जिदों में ना तो किसी से गले मिलें और ना ही किसी से हाथ मिलाएं।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: CN24 News Hindi
Top
// // // // $find_pos = strpos(SERVER_PROTOCOL, "https"); $comUrlSeg = ($find_pos !== false ? "s" : ""); ?>