Tuesday, 31 Mar, 10.16 pm दैनिक किरण

हेडलाइंस
कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 1586 के पार पहुंचा, 239 नए मामले, एक्टिव मामले 1391

नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना संक्रमण से भारत में पीड़ितों की संख्या अब 1586 हो गई है. सरकारी वेबसाइट के अनुसार यह रात्रि 9 बजे का आंकड़ा है. इसका मतलब है देर रात तक कुछ और संख्या बढ़ सकती है. कोरोना से मरने वालों की संख्या देशभर में 47 पहुंच गई है. जबकि इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या 148 है. इस प्रकार देश में कोरोना के एक्टिव मामले 1391 हैं. कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र है. यहां पर आज 64 नए मामले सामने आए हैं और 302 संक्रमित हो गए हैं. इस राज्य में सर्वाधिक 10 लोगों की कोरोना से मौत हुई है जबकि 39 लोग ठीक भी हुए हैं.

महाराष्ट्र के बाद आज तमिलनाडु में कोरोनावायरस के 57 मामले सामने आए. और यहां पर पीड़ितों का आंकड़ा 124 पहुंच गया. केरल में आज केवल 7 नए मामले जुड़े इस प्रकार यहां पर 241 पीड़ित हैं. कर्नाटक में 10 मामले नए सामने आए हैं और पीड़ितों की संख्या 101 है. उत्तर प्रदेश में 5 नए मामले सामने आने के बाद पीड़ितों की संख्या 101 पहुंच गई है. दिल्ली में पीड़ितों की संख्या 97 है. हालांकि दिल्ली में निजामुद्दीन में संक्रमण फैलने के कारण कल तक यहां का आंकड़ा तेजी से बढ़ने की आशंका है. राजस्थान में आज 14 नए केस सामने आए हैं और इस प्रकार आंकड़ा 93 तक पहुंच गया है. तेलंगाना में 15 नए मामले सामने आए हैं. यहां पीड़ितों की संख्या 92 हो गई है. गुजरात में 4 नए मामले सामने आने के बाद पीड़ितों की संख्या 74 तक पहुंच गई है.

मध्यप्रदेश में 19 नए मामले सामने आए हैं और पीड़ितों की संख्या 66 हो गई है. जम्मू कश्मीर में आज 6 नए मामले सामने आए हैं और पीड़ितों की संख्या 55 पहुंच गई है. हरियाणा (Haryana) में 7 नए मामले सामने आने के बाद पीड़ितों की संख्या 40 हो गई है. आंध्र प्रदेश में 17 नए मामले सामने आए हैं और पीड़ितों की संख्या 40 हो गई है. पश्चिम बंगाल में 5 नए मामले सामने आने से पीड़ितों की संख्या 27 तक पहुंच गई है. वहीं बिहार में 7 नए मामले सामने आने से पीड़ितों की संख्या 22 हो गई है. इस प्रकार 16 राज्यों में नए संक्रमित सामने आए हैं. असम और झारखंड में एक-एक संक्रमित सामने आने के बाद इन राज्यों में भी कोरोनावायरस दस्तक हो गई है. इसे देखते हुए अब यह कहा जा रहा है कि भारत कोरोना संक्रमण की तीसरी स्टेज में पहुंच चुका है. इसके बाद कम्युनिटी स्टेज पहुंच सकती है जहां पर खतरा बहुत बढ़ जाएगा.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि लॉक डाउन का पालन सही तरीके से करके इस बीमारी का प्रसार रोका जा सकता है. हालांकि जिस तरह दिल्ली के निजामुद्दीन में जमात में शामिल लोग देश के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचे हैं उसके चलते इस खतरनाक वायरस के आम जनता के बीच पहुंचने का खतरा बढ़ गया है. सभी राज्य अब जमात में शामिल लोगों को पहचान कर उन्हें क्वॉरेंटाइन करने की कोशिश कर रहे हैं.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Dainik Kiran
Top