Tuesday, 07 Aug, 11.48 am दैनिक संवाद

अन्तरंग
बूब्स के बारे में पुरुषों के मन में चलते हैं ये सवाल.

महिलाओं के बूब्स को हमेशा से ही मर्दों का एक आकर्षण केंद्र माना जाता है जो कि कहीं न कहीं गलत होता है लेकिन जहां बूब्स के बारे में बात करना एक टैबू माना जाता है। लेकिन इन सब के बारे में आद के जमाने में बात करना बहुत जरूरी हो गया है। कैंसर से लेकर रेप तक और आकर्षण से लेकर सेक्स तक बूब्स का एख बहुत बड़ा रोल रहता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बूब्स को लेकर अक्सर कुछ ऐसी अफवाहें फैली हुई है जिसे आप सभी को जानना जरूरी है।

1. सेक्स करने से ब्रेस्ट बढ़ने लगते है-

लोगों के मन में सबसे बड़ा भ्रम हैं कि जिस समय लड़कियों के शरीर में सेक्स की शुरूआत होती है, उस वक्त बूब्स तेजी से बढ़ने लग जाते हैं, जो कि एक गलत अवधारणा है और इससे ब्रेस्ट बढ़ने का कुछ भी लेना देना नहीं हैं। बड़े बूब्स के लिएसेक्स का होना जरूरी नहीं है। इस पर वैज्ञानिकों ने भी अध्ययन किया है और उन्होंने भी इस ब्रम को गलत ठहराया है।

2. हमेशा एक ब्रा साइज बने रहना

अक्सर लोग ये बात मानते हैं कि ब्रेस्ट का साइज एक सा रहता है, लेकिन इस बात में कोई भी आधार नहीं हैं। ब्रा का साइज भी अक्सर बदलता रहता है। ऐसा माना जाता है कि एक औरत 7 से 8 प्रकार के आकारों के ब्रा पहनती है और इसके लिए जब भी कोई लड़की ब्रा खरीदने के लिए जाती है तो पहले अपने सही माप की जांच करती है।

3. पेट के बल सोने से बूब्स का साइज असमान होता है

ये सिर्फ एक तरह का मिथ है कि सोने के तरीके से ब्रेस्ट का आकार बदल जाता है। आपको बता दें कि किसी भी तरह से सोने से या फिर करवट लेने से बूब्स पर कोई दबाव नहीं पड़ता है और न तो वो फैल जाते हैं।

4. शरीर का वजन बढ़ने से स्तन का आकार बढ़ता है

शरीर का वजन बढ़ने की वजह से किसी भी महिला के बूब्स का आकार नहीं बदलता है और न तो इसका कोई असर होता है। क्योंकि शरीर में फैट की मात्रा एक सीमित जगह पर एकत्रित होती है, जैसे- हिप्स, जांघ और कंधा। बूब्स पर इसका कोई भी असर देखने को नहीं मिलता है।

5. दोनों स्तनों का आकार एक सा ही होता हैं

अगर बात करें असंतुलित बूब्स की तो वो ज्यादातर असमान ही होते हैं और ये बात भी एक भ्रम है कि दोनों बूब्स के आकार एक ही समान होते हैं।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Dainik Samvad
Top