Sunday, 19 Jan, 5.31 pm First India News

होम
24 जनवरी से राजस्थान विधानसभा का सत्र, सीएए के खिलाफ लाया जा सकता है प्रस्ताव

जयपुर: राजस्थान की विधानसभा का सत्र 24 जनवरी से होगा. विधानसभा का यह सत्र कई मायनों में अहम होगा. इसी सत्र में CAA के खिलाफ कांग्रेस सरकार प्रस्ताव लेकर आ सकती है, केरल और पंजाब की तर्ज पर प्रस्ताव लाने की चर्चा है. वहीं इसी सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण होने की चर्चा है. पहले दिन शोकाअभिव्यक्ति होगी और इसी दिन आगे के बिजनेस को लेकर कार्य सलाहकार समिति की बैठक होगी.

केरल और पंजाब के बाद राजस्थान सरकार की तैयारी:
CAA के विरोध में केरल और पंजाब की सरकारों ने विशेष सत्र बुलाकर प्रस्ताव पारित कर दिया. अब लगता है राजस्थान सरकार भी ऐसा करेगी, इसके लिये राज्य की विधान सभा में प्रस्ताव लाने की चर्चा है. एनडीए सरकार के खिलाफ प्रस्ताव लाने के लिये कांग्रेस के विधायकों ने भी गहलोत सरकार से मांग की है. निर्दलीय विधायक, सीपीएम, बीटीपी, आरएलडी भी सरकार के प्रस्ताव का विधानसभा में समर्थन कर सकती है. वैसे मौजूदा विधानसभा के सत्र को साधारण शीत सत्र कहा जा रहा है, लेकिन सियासी कारणों से इसका महत्व होगा. यहां पर गौर करने के लिये लायक बात यहीं है कि एससी-एसटी सम्बंधित बिल समेत महत्वपूर्ण विधायी कार्य निपटाये जायेंगे.

संवैधानिक इतिहास की बड़ी घटना:
विधानसभा के मौजूदा सत्र में ही राज्यपाल के अभिभाषण की चर्चा है. बहरहाल बिजनेस एडवायजरी कमेटी तय करेगी कि विधानसभा में क्या कार्य लिये जाने और क्या विधायी कार्य होने है. अगर सीएए के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित होता है तो यह संभवतः पहली ऐसी घटना हो सकती है, जब संसद में पारित प्रस्ताव होगा. राजस्थान सरकार विधानसभा के जरिये चुनौती देगी. संवैधानिक इतिहास की यह बड़ी घटना राजस्थान के लिये हो सकती है.

... संवाददाता योगेश शर्मा की रिपोर्ट

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: First India News
Top