Sunday, 24 Jan, 6.38 pm First India News

होम
अमित शाह का गठबंधन पर निशाना, कहा- कांग्रेस-एआईयूडीएफ गठजोड़ घुसपैठियों का स्वागत करने के लिए सारे दरवाजे खोल देंगे

नलबाड़ी(असम): केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को आरोप लगाया कि यदि कांग्रेस-एआईयूडीएफ गठजोड़ असम में सत्ता में आता है तो ये दल घसुपैठियों का स्वागत करने के लिए ''सारे द्वार'' खोल देंगे.

कांग्रेस पर प्रहार, कहा- उनके शासन ने सिर्फ खूनखराबा दियाः
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस शासन ने सिर्फ खूनखराबा दिया है, जिसमें हजारों युवकों को अपनी जान गंवानी पड़ी. उन्होंने कहा कि क्या कांग्रेस और बदरूद्दीन अजमल असम को घुसपैठ से मुक्त रख पाएंगे? यदि वे सत्ता में आते हैं, तो वे उनका स्वागत करने के लिए सारे दरवाजे खोल देंगे क्योंकि यह उनका वोट बैंक है.

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व सिर्फ भाजपा रोक सकती है घुसपैठः
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने चुनावी राज्य असम में अपनी पहली चुनावी रैली में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सिर्फ भाजपा ही राज्य को पड़ोसी देश से घुसपैठ से रक्षा कर सकती है.

इसी साल होंगे असम विधानसभा चुनावः
असम विधानसभा चुनाव मार्च-अप्रैल में होने की संभावना है. कांग्रेस ने इसके लिए एआईयूडीएफ, भाकपा, माकपा, भाकपा(एमएल) और आंचलिक गण मोर्चा (एजीएम) के साथ गठजोड़ किया है.

कांग्रेस द्वारा चलाई गई गोलियांः
कांग्रेस पर प्रहार करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने बांटों और राज करो की अंग्रेजों की नीति जारी रखी है. उसने आदिवासी और गैर-आदिवासी, असमी लोगों और पर्वतीय लोगों, बोडो और गैर-बोडो के बीच विभाजन पैदा कर दिया है. उन्होंने कहा कि 20 साल में सिर्फ खूनखराबा हुआ है और कांग्रेस द्वारा चलाई गई गोलियों से 10,000 असमी युवक मारे गए हैं.

असम बनेगा गोली मुक्त, आंदोलन मुक्त और बाढ़ मुक्तः
लोगों से भाजपा को वोट देने की अपील करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि यदि उनकी पार्टी सत्ता में फिर से आएगी तो असम गोली मुक्त, आंदोलन मुक्त और बाढ़ मुक्त बनेगा. उन्होंने कहा कि एक चीज तो निश्चित है कि असम कांग्रेस और एआईयूडीएफ के हाथों में सुरक्षित नहीं रहेगा.
सोर्स भाषा

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: First India News
Top