Sunday, 21 Feb, 5.27 pm First India News

होम
प्रियंका गांधी ने कहा- उत्तर प्रदेश की सरकार खनन माफिया के लिए चलाई जा रही

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले के यमुनापार बसवार गांव में कथित पुलिस उत्पीड़न के शिकार लोगों के बीच रविवार को आईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश की सरकार खनन माफिया एवं दूसरे अन्य माफियाओं के लिए चलाई जा रही है. गत चार फरवरी को बसवार में बालू के अवैध खनन को लेकर इसमें कथित रूप से लिप्त निषाद समाज के लोगों के साथ पुलिस की मारपीट और उनकी नौका तोड़े जानी की घटना के बाद प्रियंका गांधी का यह दौरा हुआ है जो राजनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है.

पिछली कांग्रेस सरकार के कामों के बारे में बतायाः
बसवार गांव में यमुना तट पर लगी चौपाल में प्रियंका ने लोगों से कहा कि यहां के लोगों ने मुझे बताया कि किस तरह से पहले पट्टे मिलते थे, आपका उन पर अधिकार होता था और आपको कुछ चीजों की छूट थी. यह छूट इसलिए थी क्योंकि उस समय की सरकार यह समझती थी कि नदियों, जंगल, पहाड़ के आसपास के रहने वाले लोग नदियों और जंगल को कभी हानि नहीं पहुंचाएंगे क्योंकि आपका जीवन उस पर निर्भर है. उन्होंने कहा कि लेकिन बड़े बड़े उद्योग चलाने वाले लोगों, ठेकेदारों का जीवन नदी, जंगल आदि से नहीं जुड़ा होता और जब वे काम करते हैं तो वे व्यापार करते हैं. उन्हें नदी, जंगल आदि के नुकसान से कोई लेनादेना नहीं होता.

प्रियंका गांधी ने राज्य़ सरकार को लिया आड़े हाथः
कांग्रेस महासचिव ने कहा कि आपका जीवन ही इसी काम पर निर्भर है और जब यह बात सरकार समझती है और आपके प्रति जागरूक होती है तो वह इसी के मुताबिक नीतियां, नियम और कानून बनाती है जिससे आपका भला हो और नदी का भी भला हो. उन्होंने कहा कि लेकिन प्रदेश की सरकार आपके के लिए नहीं चल रही है. यह खनन माफिया के लिए चलाई जा रही है. यह अन्य माफियाओं के लिए भी चलाई जा रही है. आपने किसानों के आंदोलन के बारे में सुना होगा. वह इसीलिए चल रहा है क्योंकि उनके मामलों को भी सरकार समझ नहीं रही है या पूरी तरह से समझ भी रही है लेकिन मदद नहीं करना चाहती. कांग्रेस नेता ने कहा कि इसी तरह से जो कानून नदियों पर लागू है, वह आपकी और नदियों की भलाई के लिए नहीं है. ये कानून इसलिए लागू किए जा रहे हैं जिससे बड़े लोग अपना कारोबार कर सकें, नदी से कमाई कर सकें.

पुलिस उत्पीड़न को लेकर प्रियंका ने कहां आगे तक लड़ेंगे लड़ाईः
पुलिस उत्पीड़न की शिकार महिलाओं से बातचीत के बाद प्रियंका ने कहा कि मैं आपकी तरह महिला हूं और मैं आपकी पीड़ा समझ सकती हूं. अगर आपको यहां मारा पीटा गया है तो शासन, प्रशासन और पुलिस को शर्म आनी चाहिए. हम इस मुद्दे को उठाएंगे और पूरी तरह से आपकी लड़ाई लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि आपकी बिरादरी (निषाद) ने इस सरकार की बहुत मदद की है और आपके वोट से यह सरकार आई है. जब नेता यह भूल जाता है कि उसे सत्ता किसने दी है तो वह भटकने लगता है. न्यायपालिका में मदद की आपकी मांग पर मैं (कपिल) सिब्बल साहब, सलमान (खुर्शीद) साहब और (अभिषेक मनु) सिंघवी साहब से बात करूंगी. वे आपकी मदद करेंगे और हमारे कांग्रेस के कार्यकर्ता भी यहां आपकी मदद करेंगे. प्रियंका गांधी ने कहा कि अगर हमारी सरकार यहां आएगी तो हम आपके पट्टे के अधिकार दिलाएंगे.

प्रियंका गांधी ने डेढ़ किलोमीटर दूर घटनास्थल का पैदल जाकर किया दौराः
चौपाल के बाद कांग्रेस महासचिव ने कार्यक्रम स्थल से करीब डेढ़ किलोमीटर दूर घटनास्थल का पैदल दौरा किया और टूटी हुई नावों का निरीक्षण कर प्रभावित नाविकों से बातचीत की और उनका दुख दर्द बांटा. प्रियंका गांधी के इस दौरे में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी, उत्तर प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, देवेंद्र निषाद, मकसूद खान, मुकुंद तिवारी आदि मौजूद रहे.
सोर्स भाषा

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: First India News
Top