Saturday, 01 Aug, 8.37 pm First India News

होम
सीएम गहलोत का गजेंद्र सिंह पर निशाना, कहा-वसुंधरा का विकल्प बनने के लिए BJP में प्रतिस्पर्द्धा, CM बनने के सपने देख रहे थे केंद्रीय मंत्री

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर हमला बोलते हुए कहा है कि भाजपा में वसुंधरा राजे का विकल्प बनने का कंपीटिशन मचा हुआ है और केंद्रीय मंत्री तो सीएम बनने का ख्वाब देख रहे थे, लेकिन उनका प्लेन ऊपर चढ़ने से पहले की क्रेश हो गया. जैसलमेर से जयपुर लौटने के बाद एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने विभिन्न मुद्दों पर खुलकर बात की. प्रदेश के सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला लगातार जारी है.

गहलोत सरकार पर तीखे हमले:
शेखावत ने जहां ट्वीटर के माध्यम से गहलोत सरकार पर तीखे हमले किए हैं, तो वहीं मुख्यमंत्री ने आज जैसलमेर से जयपुर लौटने के बाद कहा शेखावत पर प्रहार किए. हाल के दिनों में शेखावत ने ट्वीट करके कहा कि अपने ही राज्य में राजस्थान सरकार असुरक्षित दर-दर भटक रही है! यह गहलोत जी का प्रदेश वासियों को स्पष्ट संदेश है- अपनी रक्षा स्वयं करें! वहीं दूसरे ट्वीट में लिखा कि राजस्थान में कांग्रेस की भाग दौड़ सरकार. आज बारी मुख्यमंत्री गहलोत की थी. उन्होंने कहा कि भाजपा में वसुंधरा का विकल्प बनने के लिए प्रतिस्पर्द्धा हो रही है. एक केंद्रीय मंत्री तो सीएम बनने के सपने देख रहे थे,लेकिन उनका प्लेन ऊपर चढ़ने से पहले ही क्रेश हो गया. आरोप संजीवनी सोसाइटी, ऑडियो टेप व इथोपिया में प्रोपर्टी को लेकर भी लगाए. गहलोत ने कहा कि मंत्री दिन भर ट्वीट करना बंद कर पानी की चिंता करें.

BJP को जनता माफ नहीं करेगी:
वहीं प्रदेश में सियासी संकट पर गहलोत ने कहा कि BJP को जनता माफ नहीं करेगी, मैं रास्ते में जाता हूं तो लोग सड़कों पर खड़े रहते हैं और मुझे विक्ट्री साइन दिखाते हैं, क्या विपक्ष को नजर नहीं आता कि लोग क्या सोच रहे है. बसपा व मायावती को लेकर गहलोत ने कहा कि मायावती पर सीबीआई व ईडी का दबाव है. BSP विधायकों का विलय कानून के तहत हुआ, लेकिन अब BJP के चाल, चरित्र व चेहरे सामने आ गए.

जयपुर एयरपोर्ट की यात्रीभार के लिहाज से मात्र 18 प्रतिशत रिकवरी, पिछले साल जून की तुलना में 81.9 फीसदी गिरा यात्रीभार

राममंदिर के मुद्दे पर भी गहलोत ने अपने विचार रखे:
अयोध्या में राममंदिर के मुद्दे पर भी गहलोत ने अपने विचार रखे. उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला पूरे देश ने स्वीकार किया, लेकिन BJP राजनीतिक लाभ उठाना चाहती है. मेरा मानना है कि देश को अखंड रखने के लिए सभी को साथ लेकर चलना चाहिए. प्रदेश में एक तरफ कोरोना का संकट है, तो दूसरी तरफ सियासी संकट. दोनों संकट से जूझ रहे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भाजपा पर लगातार हमलावार है, ऐसे में अब देखना होगा कि प्रदेश का सियासी संकट किस दिशा में जाता है और अब भाजपा नेता सीएम गहलोत के इन आरोपों का किस तरह जवाब देते हैं.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: First India News
Top