Wednesday, 02 Dec, 6.18 pm Haqeeqat Today

होम
ब्रिटेन ने फाइजर वैक्‍सीन को इस्‍तेमाल करने की दी मंजूरी, जानें इसकी पूरी खबर

वैक्‍सीन के आते ही इसका वितरण तेजी से शुरू हो जाएगा इसे लेकर अमेरिका ने तो पूरी तैयारी कर ली है। पिछले साल चीन से शुरू हुई कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए बस वैक्‍सीन के ट्रायल का अंतिम फेज जारी है।

वाशिंगटन। पिछले साल 2019 के अंत में शुरू हुए नॉवेल कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए शुरू से ही संभावना जताई जा रही थी कि इस साल 2020 के अंत तक वैक्‍सीन विकसित कर लिया जाएगा। कोविड वैक्‍सीन फाइजर को इस्‍तेमाल की मंजूरी देने वाला दुनिया का पहला देश ब्रिटेन है। इसके साथ ही ब्रिटेन ने देश में अगले सप्‍ताह की शुरुआत में वैक्‍सीन के रिलीज करने का ऐलान किया है। बुधवार को जापान में एक कानून पारित किया गया जिसके तहत यहां के लोगों को मुफ्त कोरोना वायरस वैक्‍सीन के खुराक दिए जाएंगे।

स्‍पाइसजेट की कार्गो सेवा करेगी मदद-

इस क्रम में वैक्‍सीन व ड्रग के ट्रांसपोर्ट के मद्देनजर स्पाइसजेट की कार्गो सेवा स्‍पाइसएक्‍सप्रेस ने कोल्‍ड-चेन सॉल्‍यूशन प्रोवाइडर्स से हाथ मिला लिया है। इन ड्रग व वैक्‍सीन को एक जगह से दूसरे जगह नियंत्रित तापमान में ले जाने व लाने की सुविधा होगी। इसके अनुसार, कार्गो सेवा ने विशेष सर्विस 'स्‍पाइस फर्मा प्रो की शुरुआत की है। वहीं अमेरिका ने कहा है कि कोविड-19 वैक्‍सीन उपलब्‍ध होते ही देश में वितरण की पूरी तैयारी कर ली गई है।

वैक्‍सीन मामले में कनाडा का हाल-

जॉनसन एंड जॉनसन ने मंगलवार रात को बताया कि यूरोप और कनाडा ने तो वैक्‍सीन का रियल टाइम रिव्‍यू शुरू कर दिया। अमेरिकी कंपनी की जांसेन यूनिट वैक्‍सीन के लिए कनाडा के साथ काम करती रहेगी। वहीं मॉडर्ना इंक व फाइजर ने मंगलवार को यूरोप में वैक्‍सीन के लॉन्‍च को लेकर इमरजेंसी एप्‍लीकेशन दे दिया है। गत अगस्‍त में कनाडा ने 38 मिलियन डोज के लिए जॉनसन एंड जॉनसन के साथ डील कर लिया था। यहां मॉडर्ना, फाइजर व एस्‍ट्राजेनेका वैक्‍सीन की रिव्‍यू जारी है।

ब्राजील व पुर्तगाल में है ये तैयारी-

ब्राजील के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया है कि देश के लोगों, स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों व 75 वर्ष व इससे अधिक उम्र वालों को वैक्‍सीन के लिए प्राथमिक श्रेणी में रखा गया है। पुर्तगाल के प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्‍टा ने मंगलवार को कहा कि आगामी जनवरी में यूरोपीय संघ की कमान आने के बाद वैक्‍सीन के लिए सभी यूरोपीय देशों को शीर्ष प्राथमिकता दी जाएगी। उन्‍होंने कहा कि जिस दिन हमारे पास वैक्‍सीन आएगी उसी दिन यूरोप के सभी देशों को यह भेज दिया जाएगा।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Haqeeqat Today
Top