Wednesday, 27 Jan, 6.40 pm Himachal Abhi Abhi

होम
किसान संगठनों में दरार, एक संगठन ने वापस लिया आंदोलन; टिकैत-योगेंद्र यादव समेत 37 पर FIR

नई दिल्ली। ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा के इफेक्ट अब दिखने लगे हैं। राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ ने खुद को किसान आंदोलन से अलग कर लिया है। संगठन के नेता वीएम सिंह (VM Singh) हैं, जिन्होंने किसान आंदोलन (Farmers Protest) से अलग होने का ऐलान किया है। इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव (Rakesh Tikait-Yogendra Yadav) समेत 37 किसान नेताओं पर मुकदमा (FIR) भी दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि इन नेताओं पर हत्या के प्रयास की धारा लगाई गई है। उधर, दिल्ली में हुई हिंसा के बाद अब किसान संगठनों में दरार आ चुकी है।

किसान आंदोलन से राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के अलग होने का ऐलान करने के साथ ही वीएम सिंह ने कहा कि हम लोगों को पिटवाने या शहीद करवाने के लिए नहीं लाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत पर भी आरोप लगाए। वीएम सिंह ने कहा कि टिकैत सरकार के साथ बातचीत के लिए तो गए, लेकिन क्या उन्होंने यूपी के गन्ना किसानों की बातें भी उठाई। उन्होंने धान के किसानों के किसानों की बात की। उन्होंने कहा कि हम यहां धरना देते रहें और वहां कोई नेता बने, ये काम हमारा नहीं है।

इसके अलावा दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा को लेकर आज शाम दिल्ली पुलिस भी प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। इसमें हिंसा से जुड़ी तमाम जानकारियों दिल्ली पुलिस की ओर से साझा की जाएगी। उधर, बताया जा रहा है कि किसान नेता राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव सहित 37 नेताओं पर दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज किया है। इनके खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र, डकैती, डकैती के दौरान घातक हथियार का प्रयोग और हत्या का प्रयास जैसी धाराएं लगाई गई हैं। आपको बता दें कि ट्रैक्टर रैली के दौरान किसी भी तरह का उपद्रव ना होने की जिम्मेदार किसान नेताओं ने ही ली थी।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Himachal Abhi Abhi
Top