Wednesday, 27 May, 6.10 pm हिन्दुस्थान समाचार

महाराष्ट्र
वसई : नहीं चलीं श्रमिक स्पेशल ट्रेनें, परेशान हुए प्रवासी मजदूर

मुंबई, 27 मई, (हि. स.)। मंगलवार को पश्चिम रेलवे के वसई स्टेशन से सात श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाए जाने के बाद बुधवार को एक भी ट्रेन नहीं चलाई गई। इससे वसई के सनसिटी ग्राउंड में गांव जाने की आस में लाइन लगाकर बैठे चार हजार से अधिक मजदूरों को निराश होकर लौटना पड़ा। हालांकि इनमें तमाम लोग अभी भी वहीं पर डटे हुए हैं।

जानकारी के अनुसार बुधवार को वसई से श्रमिक ट्रेनें नहीं चलीं। जिससे उत्तर प्रदेश व बिहार जाने वाले लगभग चार हजार से अधिक प्रवासी मजदूरों को वापस घर लौटना पड़ा। मंगलवार को उत्तरप्रदेश के लिए 7 ट्रेनें चलाई गईं। जिसमें लगभग 11 हजार यात्री अपने गृह नगर की ओर रवाना हुए। वसई पश्चिम के सनसिटी ग्राउंड में लगभग 15 हजार से अधिक लोग जमा हुए थे। बाकी बचे लोग बुधवार सुबह ट्रेन के इंतजार में सनसिटी ग्राउंड व आसपास सड़कों पर ही डेरा डाल कर बैठे रहे। बुधवार सुबह जब ट्रेन नहीं चलाए जाने की सूचना मिली, तो बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी ग्राउंड में पहुंच गए और लोगों को हटाने लगे। दोपहर 1 बजे पुलिस ने सड़कों किनारे बैठे लोगों को घर जाने को कहा, लेकिन लोग हटने का नाम नहीं ले रहे थे। पुलिस ने जबरन लोगों को बस में बैठाकर उन्हें उनके घर छोडऩे का काम शुरू किया।

इससे पूर्व मंगलवार को रेलवे की ओर से वसई से जौनपुर के लिए चार, भदोही के लिए दो व गोखरपुर के लिए एक श्रमिक ट्रेन चलाई गईं। प्रत्येक ट्रेन में लगभग 16 सौ यात्रियों को बैठाया गया। प्रवासी मजदूरों की भीड़ को देखते हुए सुबह से ही पालघर पुलिस की ओर से कड़ा बंदोबस्त किया गया था। वसई पश्चिम के सनसिटी ग्राउंड पर गांव जाने के लिए लाइन में लगने वाली भीड़ में सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल पालन नहीं हो रहा है। बस में भी यात्रियों को भर भर कर स्टेशन पहुंचाया जाता है।

हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप/ राजबहादुर

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Hindusthan Samachar
Top
// // // // $find_pos = strpos(SERVER_PROTOCOL, "https"); $comUrlSeg = ($find_pos !== false ? "s" : ""); ?>