Thursday, 23 Nov, 4.21 am Janman TV

जनमन tv
भारत ही नहीं बल्कि इन देशों में भी अंधविश्वास को लोग कहतें हैं मान्यता.

दुनिया में कई जगह ऐसी होतीं हैं जहां अंधविश्‍वास को मन्यता का नाम दिया जाता है ऐसा माना जाता है कि यहां पर लोग कई तरह की चीज़ों पर विश्‍वास करते हैं और जब ये विश्‍वास अपनी सीमा पार कर देता है तो अंधविश्‍वास बन जाता है. दुनियाभर के लोग मानते हैं कि भारतीयों में सबसे ज्‍यादा अंधविश्‍वास फैला हुआ है लेकिन से सच नहीं है. असल में दुनिया में ऐसी कई जगहें हैं जहां पर लोग आंख मूंदकर कुछ चीज़ों पर विश्‍वास करते हैं.

चीन से लेकर इज़राइल तक कई देश ऐसे हैं जहां अंधविश्वासों का पालन धार्मिक रूप से किया जाता है. तो चलिए जानते हैं कि भारत के अलावा किन देशों में क्‍या अंधविश्‍वास प्रचलित है.

जापान

जापानी मानते हैं कि भले ही आपके जीवन में कोई दिशा नहीं हो लेकिन मरे हुए लोगों की होती है. यहां माना जाता है कि मृत लोग उत्तर दिशा में आराम करते हैं इसलिए इस दिशा की ओर सिर करके सोने से दुर्भाग्‍य आता है.

रूस

रूस में किसी पक्षी द्वारा इंसान के ऊपर मल करने के पीछे भी एक कारण है. यहां के लोग मानते हैं कि ये समृद्धि का कारण है.

तुर्की

इस देश के अंधविश्‍वास को जानकर आपको विश्‍वास ही नहीं होगा. इस देश में माना जाता है कि रात के समय च्‍यूइंगम चबाना किसी मृत का सड़ा हुआ मांस खाने के बराबर है.

पुर्तगाली

पुर्तगालियों के अनुसार पीछे की ओर चलने का मतलब है आप शैतान को अपना रास्‍ता दिखा रहे हैं.

हंगर

हंगरी और रूस दोनों जगह ही ये माना जाता है कि डिनर के लिए कोने की टेबल पर बैठने से शादी की संभावना बढ़ जाती है.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Janman TV
Top