Friday, 20 Sep, 12.20 pm Janman TV

जनमन tv
ICU में पड़ी इकोनॉमी को एक और सरकारी इंजेक्शन, अबकि रहमत बरसी कारोबारियों पर

देश की अर्थव्यवस्था को मंदी की मार से उबारने के लिए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आज फिर बड़ी घोषणा की है. वित्त मंत्री ने कंपनियों के लिए लगने वाले कॉर्पोरेट टैक्स को घटाने का एलान किया है. उन्होंने कहा है कि 1 अक्टूबर के बाद स्थापित होने वाली मैन्यूफैक्चरिंग कंपनियों को 15 फीसदी टैक्स देना होगा. इस तरह नई मैन्यूफैक्चरिंग कंपनियों के लिए टैक्स की प्रभावी दर 17.01 फीसदी होगी.

जीएसटी काउंसिल की बैठक के पहले वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कांफ्रेंस ली थी. जिसमें उद्योग जगत को बड़ी राहत देते हुए वित्त मंत्री ने कॉर्पोरेट टैक्स को घटाने का एलान किया. उन्होंने कहा कि इससे देशी मैन्यूफैक्चरिंग कंपनियों को बड़ी राहत मिलेगी. कंपनियों के लिए नया कॉर्पोरेट टैक्स 25.17 प्रतिशत तय किया गया है. भारतीय कंपनियों को इसका फायदा मिलेगा. इसके अलावा कंपनियों को अन्य कोई टैक्स नहीं देना होगा.

इसके अलावा सरकार ने इनकम टैक्स एक्ट में नया प्रावधान जोड़ा है. इसके तहत वित्त वर्ष 2019-20 से घरेलू कंपनियों पर इनकम टैक्स की दर 22 फीसदी होगी. कैपिटल गेन पर सरचार्ज भी खत्म कर दिया गया है. हालांकि इसके लिए एक शर्त भी रखी गई है जिसके अनुसार ऐसी कंपनी को दूसरी कोई टैक्स छूट नहीं मिल रही हो.

बता दें कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण आज (शुक्रवार) जीएसटी काउंसिल के साथ बैठक करेंगी, जो सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था के लिहाज से काफी अहम है. बैठक में इंडस्ट्री को कई वस्तुओं पर रेट कट की उम्मीद है. संभावना है कि आज होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक में इस बार 5 फीसदी के बजाय 8 फीसदी की दर को टैक्स का सबसे निचला स्लैब बनाया जा सकता है.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Janman TV
Top