Friday, 20 Sep, 5.20 pm Janman TV

जनमन tv
SIT के सामने ठंडे पड़े चिन्मयानंद, कबूल कर लिया अपना हर गुनाह

लॉ छात्रा के यौन उत्पीड़न के आरोप में एसआईटी ने आज स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है. साथ ही स्वामी चिन्मयानंद से 5 करोड की रंगदारी मांगने के आरोप में पीड़िता के तीन दोस्तों को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. एसआईटी के मुखिया आईजी नवीन अरोरा ने प्रेस कान्फ्रेंस कर बताया कि स्वामी ने पूछताछ के दौरान अपने उपर लगे आरोप स्वीकार कर लिए हैं.

चिन्मयानंद ने नग्न होकर मसाज करवाने और यौन शोषण के आरोपों को स्वीकार कर लिया है. स्वामी का कहना है कि वह अपने इस कृत्य पर बेहद शर्मिंदा हैं. एसआईटी ने बताया कि पीड़िता और उसके दोस्त संजय के बीच 1 साल में 4200 कॉल की गई जबकि स्वामी चिन्मयानंद और पीड़ित के बीच में भी लगभग 200 कॉल की गई हैं. फिलहाल स्वामी चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है.

बता दें कि आज सुबह साढ़े आठ बजे के करीब एसआईटी ने स्वामी चिन्मयानंद को उनके आश्रम से गिरफ्तार कर लिया था. इसके एक घंटे बाद ही छात्रा के तीनों दोस्तो का मेडिकल कराकर उन्हें भी जेल भेज दिया गया. इसके बाद मीडिया से बात करते हुए एसआईटी के ​मुखिया आईजी नवीन अरोरा ने बताया कि मामले में दोनों पक्षों की शिकायत पर जांच के बाद दोनों तरफ से मुकदमा दर्ज किया जा रहा है. स्वामी चिन्मयानंद पर लगे आरोप सही पाए गए हैं तो छात्रा और उसके दोस्तों पर लगे आरोपों में भी सच्चाई पाई गई है.

एसआईटी का कहना है कि उनके पास स्वामी चिन्मयानंद और पीड़िता सहित उसके दोस्तों के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं. जिनके आधार पर अभी तक यह कार्रवाई की गई है. पांच करोड की रंगदारी मांगने के आरोपियों ने इस बात को स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने रंगदारी मांगी थी. आईजी के अनुसार मामले में पीड़िता के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Janman TV
Top