Saturday, 28 Nov, 4.59 am Jobs Indi

होम
एमएलसी चुनाव में निर्णायक भूमिका निभाएंगे शिक्षामित्र, शिक्षामित्र बिगाड़ सकते हैं भाजपा का गणित

आगरा। एक दिसम्बर को होने जा रहे खण्ड स्नातक विधान परिषद चुनाब में इस बार प्रदेश के शिक्षामित्र निर्णायक भूमिका निभाने जा रहे हैं। प्रदेश में 8 खण्ड स्नातक विधान परिषद की सीट हैं जिन पर 1 दिसम्बर को चुनाव होने हैं बर्तमान में प्रदेश में 1,72000 शिक्षामित्र हैं । जिसमें से पिछली दो शिक्षक भारतीयों में लगभग 15 हजार शिक्षामित्रों का चयन शिक्षक पद पर हो गया है। शेष अभी शिक्षामित्र पद पर ही रहकर कार्य करने को विवस हैं। मानदेय के रुप में भी उन्हें महज 10 हजार रुपये महीना मिलता है। जिससे शिक्षामित्रों के परिवारों का भी भरण पोषण नहीं हो पा रहा है । भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने शिक्षामित्रों से किया एक भी वायदा आज तक पूरा नहीं किया है। इसलिए शिक्षामित्र आज भी अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं । सरकार की वादा खिलाफी से त्रस्त आकर तथा आर्थिक तंगी व

अवसाद के कारण प्रदेश में अबतक 4 हजार से अधिक शिक्षामित्रों की

असामयिक ही मृत्यु हो चुकी हैं। 25 जुलाई 2019 में उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में गठित हाईपावर कमैटी की रिपोर्ट भी अभी

तक सार्वजनिक न होने से तथा शिक्षक भर्ती में बार बार कटऑफ बढ़ाने से जिस तरह से शिक्षामित्रों से उनका हक छीना गया है। शिक्षामित्रों का भरोसा भाजपा सरकार से पूरी तरह से उठ चुका है। 1 दिसम्बर को होने जा रहे स्नातक विधान परिषद चुनाब में शिक्षामित्र अहम भूमिका अदा करने जा रहे हैं । आगरा खण्ड स्नातक सीट की अगर बात की जाए तो इस पर सभी 12 जनपद में मिलाकर लगभग 25 हजार शिक्षामित्र हैं जो कि निर्णायक भूमिका निभाएंगे ।उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह छौंकर का कहना है कि अकेले जनपद आगरा

में 3 हजार शिक्षामित्र हैं। प्रदेश के शिक्षामित्र एकतरफा मतदान करेंगे और निर्णायक भूमिका अदा करेंगे।

स्नातक चुनाव को लेकर तैयारियां हुई तेज

आगरा। जैसे-जैसे शिक्षक एमएलसी के चुनाव नजदीक आ रहे हैं। वैसे वैसे उत्तर प्रदेश सीनियर बेसिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष डॉ महेश कान्त शर्मा व जिला मंत्री जीआर जादौन का तूफानी दौरा शिक्षक प्रत्याशी वेद प्रकाश शर्मा वृंदावन वालों के लिए दिन-व- दिन आगे बढ़ रहा है। आज डॉ महेश कान्त शर्मा ने अपना दौरा जनता इंटर कॉलेज मिढ़ाकुर से प्रारंभ करते हुए लगभग 20 विद्यालयों के साथ समाप्त किया । जिलाध्यक्ष व जिला मंत्री के द्वारा डॉ वेद प्रकाश शर्मा के एजेंडे में शामिल सभी बिंदुओं को बारी बारी से बताया तथा सभी अध्यापकों ने वेद प्रकाश शर्मा को पूर्ण समर्थन देने के लिए कहा डॉ महेश कान्त शर्मा आने वाले 1 दिसंबर को अपने समस्त पदाधिकारियों के साथ डॉ वेद प्रकाश शर्मा की जिताने में कोई कमी नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि डॉ वेद प्रकाश शर्मा आने वाले समय में जीत दर्ज करते हैं तो उत्तर प्रदेश सीनियर बेसिक शिक्षक संघ के सभी साथियों की

समस्याओं का निराकरण करने के लिए वह हमेशा तैयार रहेंगे।

. hindi.jobsindi.com

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Jobs Indi Hindi
Top