Sunday, 20 Sep, 8.58 am Live जागरण

वास्तु ज्ञान
कुछ नहीं बिगाड़ पायेगा केतु, बस आजमा ले ये आसान से उपाय

12

ज्योतिष शास्त्र में राहु और केतु को क्रूर ग्रह की संज्ञा दी गयी है | ये दोनों ही ग्रह अपने अशुभ प्रभाव को लेकर जाने जाते है, परन्तु अच्छी स्थिति में ये शुभ फल भी देते है | आज हम केतु ग्रह के बारे में बात करने जा रहे है | केतु ग्रह को मानसिक गुणों, तर्क और कल्पना का कारक माना गया है | कुंडली में यदि केतु शुभ स्थिति में होता है, तो जातक को धनलाभ और करियर में उन्नति प्राप्त होती है | वहीँ यदि केतु अशुभ हो तो करियर बर्बाद हो जाता है | ऐसे में आज हम आपके लिए कुछ उपाय लेकर आये है, जो केतु के अशुभ प्रभाव को ख़त्म कर शुभ प्रभाव को प्रदान करते है | आइये जानते है ये उपाय…

गाय को रोटी

केतु ग्रह का कोई भौतिक स्वरूप नहीं है, इसीलिए इसे छाया ग्रह भी कहा जाता है | यदि आपकी कुंडली में केतु अशुभ स्थिति में है, तो आपको इसके अशुभ प्रभाव को खत्म करने की आवश्यकता है | इसके लिए आप दो रंग के कुत्तो और गाय को रोटी खिलाये | आप चाहे तो कुछ अन्य खाद्य वस्तु खिला सकते है | आप लाल गाय को हरा चारा अवश्य खिलाये |

कोयला

केतु की अशुभ स्थिति से छुटकारा पाने के लिए आप मंगलवार के दिन कोयले के 8 टुकड़े बहते जल में प्रवाहित करे | साथ लाल चींटियों को भोजन खिलाये | इस दिन आप शारीरिक रूप से अक्षम लोगो को एक से अधिक रंग के कपडे का दान भी करे |

भैरवनाथ जी की उपासना

केतु के अशुभ प्रभाव से मुक्ति पाने के लिए आप भगवान भैरवनाथ जी की उपासना करे और उन्हें केले के पत्ते पर चावल का भोग लगाए | इसके बाद आप पीपल के पेड़ की परिक्रमा करे और नाग मूर्ति की पूजा करे | यदि सम्भव हो तो अपने साथ एक हरे रंग का रुमाल हमेशा रखे |

तिल के लड्डू

केतु ग्रह की शांति चाहते है, तो आप ये उपाय कर सकते है | आप इसके लिए सुहागिन महिलाओ को तिल के लड्डू खिलाये और तिल दान करे | साथ ही कन्याओ को रविवार के दिन मीठा दही और हलवा खिलाने से भी केतु शांत होता है | इसके अलावा मंदिर में रोजाना गाय के घी से दीपक जलाये |

गणेश द्वादश नाम स्त्रोत

केतु के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए रोजाना पीपल के पेड़ के नीचे कुत्ते को मीठी रोटी खिलानी चाहिए | इसके अलावा रोजाना गणेश जी की पूजा करने से और गणेश द्वादश नाम स्त्रोत का पाठ करने से भी केतु के अशुभ प्रभाव से मुक्ति मिलती है | इसके अलावा कपिला गाय, लोहा, तिल, तेल, नारियल और उड़द जैसी चीजों का दान करने से भी केतु शांत होता है |

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Live Jagran
Top