Friday, 14 Sep, 9.50 am Live Today

देश
भाषाई ईमेल सेवा ने पाट दी अंग्रेजी व हिंदी के बीच की डिजिटल खाई

नई दिल्ली। हिंदी के साथ-साथ अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में बुनियादी इंटरनेट अवसंरचना के साथ डोमेन नाम देश में डिजिटल खाई को पाटने में ताकतवर उत्प्रेरक की भूमिका का निर्वहन कर रहा है। अब भाषाई ईमेल सेवा संगठनों और व्यक्तियों को हिंदी में ई-मेल पते के जरिये इंटरनेट पर पंजीकरण, पहुंच और आपस में जोड़ने में सक्षम बना रहा है।

डाटा एक्सजेन प्लस टेक्नोलॉजी के संस्थापक और सीईओ तथा दुनिया की पहली भाषाई ईमेल सेवा डाटा मेल को जन्म देने वाले डॉ. अजय डाटा ने कहा कि भारत में करीब 55 करोड़ लोग अपनी भाषा के रूप में हिंदी का उपयोग कर रहे हैं। इस वजह से डेटामेल द्वारा संचालित भाषाई ईमेल सेवा उन लाखों लोगों को इंटरनेट शक्ति प्रदान करती है जो अंग्रेजी से खासे परिचित नहीं हैं।

Top