Tuesday, 05 Jan, 8.50 pm Lokmat News

भारत
केरल सोना तस्करी मामला: एनआईए ने 20 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया

कोच्चि, पांच जनवरी राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने केरल में राजनयिक सामान के जरिये 14.82 करोड़ रुपये मूल्य के 30 किलोग्राम सोने की तस्करी मामले में मंगलवार को 20 लोगों के खिलाफ यहां की एक विशेष अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

एक एनआईए प्रवक्ता ने बताया कि सरिथ पी एस और स्वप्ना प्रभा सुरेश सहित सभी आरोपियों के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अधिकारी ने बताया कि सुरेश और सरिथ दोनों तिरुवनंतपुरम के रहने वाले हैं और यूएई वाणिज्य दूतावास के पूर्व कर्मचारी हैं और उन्होंने राजनयिक चैनल का इस्तेमाल कर सोने की तस्करी में कथित तौर पर अपने पूर्व संपर्क का इस्तेमाल किया था।

आरोप पत्र में रमीस के टी, जलाल एएम, मोहम्मद शफी पी, सईदालवी ई, अब्दु पीटी, राबिन्स हमीद, मुहम्मदली अब्राहिम, मुहम्मदली, शराफुद्दीन के टी, मोहम्मद शफीक ए, हमज़ात अब्दुस्सलाम, सम्जू टीएम, हमजाद अली के, जिफसाल सी वी, अबूबाकर पी, मोहम्मद अब्दु शामिन के वी, अब्दुल हामिद और शमशुद्दीन के नाम शामिल हैं।

एनआईए ने 10 जुलाई, 2020 को सरिथ, स्वप्ना, फैसल फरीद, संदीप नैयर और अन्य के खिलाफ यूएपीए की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था।

एनआईए ने 11 जुलाई, 2020 को फरार आरोपियों सुरेश और संदीप को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था।

एनआईए द्वारा अब तक 21 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि आठ फरार हैं।

यह मामला सीमा शुल्क (निवारक) आयुक्तालय, कोचीन द्वारा त्रिवेंद्रम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के एयर कार्गो में एक राजनयिक सामान से पिछले साल पांच जुलाई को 14.82 करोड़ रुपये मूल्य के 30 किलोग्राम सोने की बरामदगी से संबंधित है।

एनआईए की जांच से पता चला था कि आरोपियों ने जानबूझकर जून 2019 से साजिश रची थी, धन जुटाया और नवंबर 2019 से जून 2020 के बीच संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से देश में लगभग 167 किलोग्राम सोने की तस्करी की थी।

अधिकारी ने बताया कि मुख्य आरोपी की योजना बहरीन, सऊदी अरब, मलेशिया जैसे देशों से और तस्करी करने की भी थी।

सोने को यूएई से एक राजनयिक सामान में छिपाकर लाया गया था और जिसे वियना संधि के अनुसार जांच से छूट है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Lokmat News Hindi
Top