Wednesday, 05 Aug, 1.41 am Lokmat News

राजनीति
'राम सबके हैं', प्रियंका गांधी के बयान को केंद्रीय मंत्री शेखावत ने बताया ने ऐतिहासिक यू-टर्न, कहा- कांग्रेस ने तो...'

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मंगलवार (4 अगस्त) को यह कहते हुए कांग्रेस पर प्रहार किया कि जिस पार्टी ने भगवान राम के अस्तित्व से ही इनकार किया, वह अब इस मुद्दे पर पलटी मारकर उनका गुणगान कर रही है। उनका बयान तब आया है जब कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि भगवान राम सभी के हैं और वह आशा करती हैं कि अयोध्या में मंदिर का भमि पूजन अनुष्ठान राष्ट्रीय एकता का समारोह हो जाए।

शेखावत ने कहा, '' भगवान राम पर कांग्रेस का बयान एक ऐतिहासिक पलटी है। कांग्रेस ने भगवान राम के अस्तित्व से इनकार करते हुए (उच्चतम न्यायालय में) हलफनामा दिया था। यह उनकी लीला ही है कि उनके अस्तित्व को ही इनकार करने वाले इस राजनीतिक दल की महासचिव अब उनका गुणगान कर रही हैं।''

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, सरलता, साहस, संयम, त्याग, वचनवद्धता, दीनबंधु राम नाम का सार है। राम सबमें हैं, राम सबके साथ हैं। भगवान राम और माता सीता के संदेश और उनकी कृपा के साथ रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का अवसर बने।

जानिए सुप्रीम कोर्ट में दिए गए किस हलफनामे का जिक्र कर रहे हैं केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत

भाजपा नेता 2007 में तत्कालीन संप्रग सरकार द्वारा उच्चतम न्यायालय में दिये गये उस हलफनामे का जिक्र कर रहे थे जिसमें कहा गया था कि भगवान राम के अस्तिव का कोई ऐतिहासिक सबूत नहीं है। मंत्री ने कहा कि राममंदिर का मुद्दा करोड़ों हिंदुओं की आस्था से जुड़ा है।

कांग्रेस विधायकों की कथित खरीद-बिक्री के मामले में राजस्थान सरकार द्वारा राजद्रोह का मामला वापस लिये जाने पर शेखावत ने कहा कि यह राज्य की कांग्रेस सरकार द्वारा ऐसे आरोपों में एक कैबिनेट मंत्री पर मामला दर्ज करने की राजनीतिक साजिश भर है। अशोक गहलोत सरकार को गिराने के लिए कांग्रेस विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त के मामलों की जांच कर रहे राजस्थान के विशेष अभियान दल ने यह कहते हुए यह मामला भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को सौंप दिया कि राजद्रोह का मामला नहीं बनता है।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Lokmat News Hindi
Top