Tuesday, 13 Jun, 8.13 am MyTemple

मंदिरों और कहानियां
पद्मालय गणेश मंदिर (पद्मालय देवस्थान), एरंडोल, जलगांव

पद्मालय और पांडवों का पौराणिक सम्बन्ध

जलगांव, महाराष्ट्र के एरंडोल तालुका में स्थित 'पद्मालय' नामक गाँव हिन्दू धर्म का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है। इसे 'प्रभाक्षेत्र' के नाम से भी जाना जाता है। यह पवित्र क्षेत्र मुख्य रूप से यहाँ स्थित भगवान् गणपति और हनुमान जी के मंदिरों के लिए विख्यात है। एक प्रसिद्ध किंवदंती के अनुसार, इसी स्थान पर पांडुपुत्र भीम और बकासुर नामक राक्षस के बीच युद्ध हुआ था। बकासुर का वध करने के पश्चात् भीम को बहुत प्यास लगी थी, इसलिए उन्होंने ताज़े जल का एक स्त्रोत बनाने के लिए बड़ी ही प्रबलता से धरती पर अपनी कोहनी मारी, जिससे वहाँ स्वच्छ जल का एक छोटा कुण्ड बन गया। तब उस कुंड के जल से ही भीम ने अपनी प्यास बुझाई थी।

इस कुण्ड को 'भीम कुण्ड' के नाम से जाना जाता है। यह कुंड पद्मालय में पद्मालय गणेश मंदिर के समीप ही स्थित है। पद्मालय मंदिर जलाशय क्षेत्र में स्थित, भीम कुंड चारों ओर से विविध प्रकार की औषधियों और जड़ी-बूटियों से घिरा एक अत्यंत मनोरम स्थल है। यह भी माना जाता है कि एरंडोल, जिसे प्राचीन काल में 'एकचक्रनगरी' के नाम से जाना जाता था, में पद्मालय ही वह स्थान है जहाँ पर वनवास के दौरान पांडवों ने वास किया था।

Read more on Ganesha temples at https://mytempleapp.com/hi/category/ganesha/

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: MyTemple Hindi
Top