Saturday, 21 Mar, 2.29 pm नवजीवन

होम
कोरोना वायरस ने रोकी ट्रेन की रफ्तार, 709 ट्रेनें आज रद्द, मुंबई के रेलवे स्टेशन पर मच गई अफरा-तफरी

देश में में कोरोना वायरस संक्रमण के 35 नए मामले सामने आने के बाद भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर शनिवार को 271 हो गई। इन 271 लोगों में से 39 विदेशी नागरिक हैं। बढ़ते संख्या के बीच लोगों के मन में खौफ बैठ गया है। मुंबई और दिल्ली के रेलवे स्टेशनों में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी है और अपने अपने घरों की ओर पलायन कर रहे हैं।

मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर यात्रियों की इस कदर भारी भीड़ उमड़ी की स्टेशन पर अफरा-तफरी की स्थिति बन गई। शुक्रवार रात स्टेशन पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए रेलवे सुरक्षा बल को खासी मशक्कत करनी पड़ी। वहीं पुणे में काम करने वाले कोरोना के डर से पलायन कर रहे हैं। यात्रियों की अचानक बढ़ी भीड़ को देखते हुए रेलवे सकते में है।

वहीं नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर आज लोगों की भीड़ दिख रही है। जहां कोरोना वायरस की वजह से ऑफिस बंद होने के बाद लोग अपने-अपने घर जा रहे हैं।

लेकिन लोगों को घर पहुंचना आसान नहीं होगा। क्योंकि रेलवे ने आज कई ट्रेनों को रद्द कर दी हैं। रेलवे ने आज 709 ट्रेनें कैंसल कर दी। इसमें 584 रेलगाड़ियां पूरी तरह रद्द की गई हैं, जबकि 125 ट्रेनों को आंशिक रूप से कैंसल किया गया है। ध्यान रहे कि कोरोना वायरस की वजह से आज रात से रविवार रात तक देश में रेल यातायात ठप रहेगा। पीएम मोदी के 'जनता कर्फ्यू' के पालन के आह्वान के मद्देनजर रेल मंत्रालय ने शनिवार रात 12 बजे से रविवार रात 10 बजे के बीच देश में रेल यातायात को पूरी तरह बंद रखने का फैसला लिया है। इस दौरान पहले से जो ट्रेनें चल रही हैं, उनको रास्ते के स्टेशनों पर रोक लिया जाएगा और यात्रियों को प्रतीक्षालयों में रखा जाएगा। इस दौरान मुंबई, कोलकाता, चेन्नई और दिल्ली जैसे महानगरों में लोकल ट्रेनों का संचालन भी अत्यंत सीमित रहेगा।

रेल मंत्रालय की ओर से सभी महाप्रबंधकों को जारी निर्देश के मुताबिक, 21-22 मार्च की उक्त अवधि के दौरान कोई भी जोन अपने यहां से कोई ट्रेन नहीं चलाएगा। इसका मतलब हुआ कि देश भर में रोजाना चलने वाली 2400 पैसेंजर ट्रेनें तथा 1300 मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें नहीं चलेंगी। इन ट्रेनों के लिए की गई बुकिंग रद्द मानी जाएगी और इनका पूरा पैसा यात्रियों को रिफंड किया जाएगा। इस दौरान जो ट्रेनें पहले से चल चुकी होंगी और रास्ते में होंगी उनके यात्रियों को बीच में ही रोककर स्टेशन पर उतार लिया जाएगा और प्रतीक्षालयों, मुख्य हॉल आदि जगहों पर थोड़ी-थोड़ी दूरी बनाकर रखा जाएगा।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Navajivan
Top