Monday, 13 Nov, 6.21 am

होम
'कमलेश' पर हंसने से पहले, उसके जीवन के गर्भ में छिपी एकांकी समझिए

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।सोशल मीडिया लगभग लोगों के जीवन का अभिन्न हिस्सा बन चुका है ऐसे में संभवत: आपके पास कमलेश की वीडियो आ ही गी होगी।आपने इसे देखा होगा फेसबुक या व्हाट्स अप पर। कमलेश के इस वीडियो को देखकर अलग-अलग प्रतिक्रिया हुई होगी लोगों ने अलग- अलग धारणाएं भी बनाई होगी। लेकिन इस घटना का मर्म लोगों के जेहन में अल्पकालिक रहा होगा।

वीडियो में दिखाया गया है कि 12-13 साल का एक बच्चा जो भोपाल से भागकर आया है। लड़का नशे के दलदल में लगातार फंसता चला गया है। सोशल मीडिया पर धारा प्रवाह इस वीडियो के प्रेषित होने के बाद अब उदय फाउंडेशन नाम के एनजीओ ने बच्चे की मदद के लिए गुहार लगाई है।


उदय फाउंडेशन ने दिल्ली के एलजी अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और दिल्ली पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट किया, "हम सब इस वीडियो को देखने के बाद काफी दुखी हैं। हमें ऐसे कई ईमेल मिल रहे हैं। कृपया इस बच्चे को ढ़ूंढ़कर इसकी मदद करें।

नशे के गर्त में फंसा कमलेश है कौन?

धीरज शर्मा नाम के एक डॉक्यूमेंट्री फिल्ममेकर हैं।उन्होंने नशेबाज- द डाइंग पीपल ऑफ डेल्ही नाम से डॉक्यूमेंट्री बनाई। कई फिल्म फेस्टिवल में अवॉर्ड जीत चुकी करीब 65 मिनट की इस डॉक्यूमेंट्री का ही एक हिस्सा है- कमलेश
डॉक्यूमेंट्री टीम के सदस्य नीरज अग्निहोत्री के यूट्यब चैनल से इसी साल 24 मई को कमलेश के हिस्से वाला 3 मिनट 32 सेकेंड का वीडियो अपलोड किया गया।

जिसके बाद कुछ दिनों तक यह वीडियों लोगों तक उस तरह नहीं पहुंचा लेकिन फिर अचानक से इस वीडियों को सोशल साइट पर खूब शेयर किया जाने लगा।
लोगों ने अपने-अपने तरीके से इस पर मजाक किया। साथ-साथ ओरिजिनल वीडियो भी देखा जाने लगा और देखते ही देखते 34 लाख से ज्यादा व्यू इस वीडियो पर आ गए।

कमलेश पर लगने वालें ठहाकों के पीछे गहरी चेतावनी है

जब आप कमलेश को ध्यान से देखत रहे होते हैं तब उसके चेहरे पर जज्बात देखकर इस बात का एहसास करिए की सिस्टम की अनदेखी और समाज की लाचारी कमलेश जैसों की खेप तैयार कर रही है।
धीरज शर्मा अब नहीं जानते की धीरज कहां हैं। धीरज की गुमशुदगी सिस्टम की अनवरत लापरवाही और अनदेखी का नतीजा है उम्मीद है कि इस अंधकार में नौनिहालों का पतन एक दिन खत्म हो जाएगा।

Dailyhunt
Top