Thursday, 04 Mar, 2.01 am News Aroma

भारत
गुजरात में इतिहास का सबसे भारी भरकम राशि 2.27 लाख करोड़ रुपये का बजट पेश

गांधीनगर/अहमदाबाद: गुजरात के उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री नितिन पटेल ने आज विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश किया।

गुजरात में पहली बार 2.27 लाख करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया है। बजट में बुलेट ट्रेन के लिए 1500 करोड़ और पांच वर्ष में दो लाख युवाओं का सरकारी नौकरी देने की घोषणा करने के साथ स्वास्थ्य और शिक्षा पर जाेर दिया गया है। बजट पेश करने ने दौरान पटेल ने कहा कि मैं अच्छा बोलता हूं और अच्छा करता भी हूं।

सदन में नौंवी बार बजट पेश करने के दौरान नितिन पटेल ने कहा कि इस बार 2.27 लाख करोड़ रुपये के बजट पिछले बजट की तुलना में 10,000 करोड़ रुपये अधिक का प्रावधान किया गया है।

उपमुख्यमंत्री पटेल ने बजट में घोषणा की कि राज्य में छह स्थानों, अहमदाबाद, सोमनाथ, अंबाजी, द्वारका, सापुतारा और गिर पर हेलीपोर्ट का निर्माण किया जायेगा।

हेलीपोर्ट के निर्माण पर 3 करोड़ रुपये का खर्च होगा। बजट में ग्रामीण स्तर पर स्वरोजगार के लिए डेयरी फार्म और बकरी पालन इकाई स्थापना के लिए 31 करोड़ रुपये, प्रति 10 गांवों में एक मोबाइल पशु अस्पताल के लिए 3 करोड़ रुपये, गौशालाओं या पंजरापोलो के लिए गौचर सुधार जैसे विभिन्न योजनाओं के कार्यान्वयन के लिए गौ सेवा और गौचर विकास बोर्ड के लिए 25 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री नि:शुल्क पशु उपचार योजना के लिए 50 करोड़ रुपये, मवेशियों के लिए चारे की खरीद के लिए 50 करोड़ रुपये, करुणा पशु एम्बुलेंस व15 हेल्पलाइन की सेवाओं के लिए 3 करोड़ रुपये, दुधला गिर-कंकरराज गायों के पशु फार्म की स्थापना के लिए 3 करोड़ रुपये का प्रावधान करते हुए दूध और दूध उत्पादों की बिक्री के माध्यम से स्वरोजगार देने की योजना तैयार की गई है।

उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल की विधानसभा में घोषणा की कि अगले पांच वर्ष में सरकारी कार्यालयों, बोर्ड निगमों, स्थानीय निकायों में दो लाख युवाओं की भर्ती की जाएगी।

इसके अलावा अगले पांच वर्ष में विभिन्न क्षेत्रों में 20 लाख युवाओं के रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बजट में अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, वडोदरा, गांधीनगर में स्मार्ट सिटी के तहत 200 करोड़, अहमदाबाद, गांधीनगर व सूरत मेट्रो रेल के लिए 568 करोड़, सभी ग्राम पंचायतों के पानी के कार्यों के लिए मुफ्त बिजली देने के लिए 734 करोड़ रुपये, ई-रिक्शा पर 40,000 रुपये की सब्सिडी, सौराष्ट्र में पीने के पानी के लिए 143 किलोमीटर लंबी पाइपलाइन बिछाने के लिए 675 करोड़ रुपये, राजकोट में पीपीपी आधार पर छह नए बस स्टैंड और अन्य स्थानों पर छह नए बस स्टैंड बनाने के लिए 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्टों में से एक अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन के लिए बजट में1500 करोड़ रुपये, डांग को रासायनिक मुक्त उत्पादक जिला बनाने के लिए व किसानों को प्राकृतिक खेती के लिए 10 हजार करोड़ रुपये की सहायता देने, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लिए 652 करोड़, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के लिए 11 हजार 323 करोड़ रुपये, महिला और बाल विकास के लिए 3511 करोड़ और शिक्षा के लिए 32,000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

पटेल ने कहा कि इस बार का बजट गुजरात की विकास यात्रा को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है। इस बजट से गुजरात के हर क्षेत्र के विकास के लिए, लोगों के लिए बहुत लाभकारी होगी। उन्होंने कहा कि नगर निगम, नगरपालिका, जिला और तालुका पंचायत चुनावों में हमारी पार्टी को जनसमर्थन मिलने से हमारी जिम्मेदारी और बढ़ गई है कि हम लोगों की भलाई के लिए और काम करें।

पेपरलेस बजट पेश कर बचाए 44.80 रुपये

केंद्र सरकार की तरह इस साल गुजरात सरकार ने पेपरलेस बजट पेश किया है।पेपरलेस बजट से राज्य सरकार को कागज में 44 लाख रुपये और 80 लाख रुपये की बचत होगी।

गुजरात बजट मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च

गुजरात बजट मोबाइल एप्लिकेशन को लॉन्च करते हुए उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि बजट के लिए मोबाइल एप्लिकेशन बनाने वाला गुजरात देश का पहला राज्य बन गया है।

इस मोबाइल एप्लिकेशन से राज्य के लाखों नागरिकों को प्रौद्योगिकी के अधिकतम उपयोग के साथ बजट के प्रावधानों की जानकारी मिल सकेगी। एप पर पिछले 5 वर्ष के सभी बजट दस्तावेज उपलब्ध होंगे।

यह दस्तावेज गुजराती और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध कराए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि इस एप पर विधानसभा की कार्यवाही को लाइव प्रसारित करने की पहल की जायेगी।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: News Aroma
Top