Sunday, 25 Aug, 3.51 pm News24

होम
यादों को छोड़ पंच तत्व में विलीन हुए बीजेपी के अरुण

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(25 अगस्त): देश के पूर्व वित्तमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली मौत से जंग हार गए। राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली रविवार को निगमबोध पर पंच तत्व में विलीन हो गए। बीमारी के चलते अरुण जेटली काफी दिनों से दिनों से एम्स में भर्ती थे, लेकिन सांस लेने में दिक्कत के चलते कल यानि शनिवार को उनकी मौत हो गई थी। बेटे रोहन ने उनके अंतिम संस्कार की सारी रस्में पूरी की। उनके निधन से राजनीतिक जमान में शोक की लहर है, आज दिल्ली के निगमबोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उन्हें उनके आवास पर श्रद्धांजलि देने वालों में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, सांसद हंसराज हंस, दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता शामिल रहे।

अभी तक...

पंच तत्वों में विलीन हुए पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली, बेटे रोहन ने दी मुखाग्नि

अरुण जेटली के अंतिम संस्कार की अंति रस्में की जा रही पूरी

बीजेपी के बड़े नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के अंतिम संस्कार की रस्में शुरू हो चुकी है। निगमबोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा, जहां देश के बड़े-बड़े दिग्गज मौजूद है। योग गुरु बाबा रामदेव, देश के गृहमंत्री अमित शाह समेत तमाम बीजेपी के नेता जेटली के अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे हैं।

पूर्व वित्त मंत्री का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए निगमबोध घाट पहुंच चुका है। घाट पर देश के कई दिग्गज नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है।

थोड़ी देर बाद निगमबोध घाट पर राजकीय सम्मान के साथ होगा अरुण जेटली का अंतिम संस्कार

निगमबोध घाट ले जाया जा रहा जेटली का शव

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए निगमबोध घाट लेकर जाया जा रहा है। उनकी अंतिम यात्रा के पीछे लोगों की भीड़ चल रही है। निगमबोध घाट पर ही जेटली का अंतिम संस्कार किया जाएगा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षबर्धन और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बीजेपी मुख्यालय जाकर पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली को अंतिम श्रद्धांजलि दी। वहीं झारखंड के सीएम रघुबर दास ने भी जेटली के अंतिम दर्शन किए।

आईपीएल अध्यक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला ने भी बीजेपी कार्यालय जाकर अरुण जेटली को श्रद्धासुमन श्रद्धांजलि अर्पित की।

इससे पहले जेटली के निधन की खबर सुनकर एम्स पहुंचने वालों में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, हरदीप पुरी, जितेंद्र सिंह, अनुराग ठाकुर, भाजपा नेता राज्यवर्धन सिंह राठौड़, मनोज तिवारी एवं रमेश बिधूड़ी प्रमुख रूप से शामिल रहे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक सबसे भरोसेमंद सहयोगी और एक कुशल वकील जेटली के लिए सभी ने शोक संवेदना व्यक्त की, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि जेटली के निधन ने बौद्धिक पारिस्थितिकी तंत्र में एक बहुत बड़ा शून्य छोड़ दिया है। अरुण जेटली का पार्थिव शव अब बीजेपी दफ्तर लाया गया है, जहां उन्हें अंतिम श्रद्धांजलि दी जा रही है। उनके अंतिम दर्शनों के लिए पार्टी कार्यालय पर नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है।

गैर भाजपाई इन नेताओं ने भी दी अरुण जेटली को श्रद्धांजलि

ब्रिटिश उच्चायुक्त बोले- याद आएंगे जेटली

भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त, सर डोमिनिक अस्किथ ने कहा कि अरुण जेटली ऐसी शख्सियत थे जिसे ब्रिटेन के कई लोग अच्छी तरह से जानते थे, उनके साथ अच्छी तरह से काम करते थे, उन्हें अपने ज्ञान, सौम्यता और हास्य के लिए महत्व देते थे. उन्हें याद किया जाएगा.

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: News24 Hindi
Top