Friday, 11 Jun, 11.51 pm आउटलुक

होम
जी-7 का कोरेाना के खिलाफ जंग के लिए 100 अरब डालर आवंटित करने का विचार, व्हाइट हाउस ने किया ऐलान

अमेरिका और जी समूह के अन्य देश (जी -7) अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से जरुरतमंद देशों को कोविड-19 महामारी से लड़ने में तत्काल मदद के तौर पर 100 अरब डालर तक की सहायता दे सकते हैं। व्हाइट हाउस ने शुक्रवार को यह घोषणा की है।

व्हाइट हाउस ने अपने बयान में कहा, "अमेरिका और जी-7 अन्य राष्ट्र सक्रिय रूप से अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के प्रस्तावित विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) के आवंटन को उन देशों की मदद करने के लिए वैश्विक प्रयास पर सक्रिय रूप से विचार कर रहे हैं, जिनको इसकी जरुरत है। शिखर सम्मेलन 100 अरब डॉलर तक स्वास्थ्य आवश्यकताओं के लिए मदद करेगा जिसमें टीकाकरण भी शामिल है और आर्थिक रूप से कमजोर देशों के आर्थिक सुधार पर भी मदद करेगा और अधिक संतुलित, निरंतर और समावेशी वैश्विक सुधार को बढ़ावा देगा।"

ब्रिटेन वर्तमान में कॉर्नवाल में इस जी-7 शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है। ब्रिटेन ने शुक्रवार को कहा कि दुनिया के सबसे अमीर देशों के नेता कम आय वाले देशों को एक अरब कोरोना वैक्सीन खुराक दान करने के लिए सहमत होंगे।

अमेरिका ने गुरुवार को घोषणा कि थी कि वह 92 निम्न और मध्यम आय वर्ग वाले राष्ट्रों और अफ्रीकी संघ को 50 करोड फाइजर टीके दान करेगा। टीकों का उत्पादन अमेरिका में किया जाएगा और पहली खेप अगस्त 2021 में शुरू होगी, इस साल के अंत तक 20 करोड खुराक देने की योजना है।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Outlook Hindi
Top