Wednesday, 05 Aug, 1.03 am पीपुल्स समाचार

प्रादेशिक
बांधों के मेंटेनेंस पर इस साल 254 करोड़ रुपए खर्च करेगी सरकार

भोपाल। प्रदेश में सिंचाई रकबा बढ़ाने के उद्देश्य से सरकार इस साल बांधों के मेंटेनेंस पर भारी-भरकम राशि खर्च करने की तैयारी में है। कुछ बडे बांधों पर तो 50 करोड़ से ज्यादा की राशि रखरखाव पर खर्च की जाएगी। उधर, मध्यम सिंचाई योजनाओं के निर्माण पर 596.57 करोड़ खर्च करने की योजना है, जबकि पिछले साल सरकार ने कंजूसी बरती और मेंटेनेंस पर मात्र 20 करोड़ ही खर्च किए,लेकिन इस साल सिंचाई विभाग का बजट 1181 करोड़ होने के कारण 254 करोड़ रुपए तो डैमों पर ही खर्च किए जाएंगे। वर्तमान में मप्र सरकार करीब 251 छोटे और बडे बांधों, तालाबों तथा अन्य साधनों से 36 लाख हेक्टेयर में ही सिंचाई करवा पा रही है, जबकि सरकार ने 40 लाख हेक्टेयर में सिंचाई का टारगेट तय किया था, जो पूरा नहीं हुआ और अब वर्ष 2021 तक 60 लाख हेक्टेयर में सिंचाई सुविधा मुहैया कराने के दावे किए गए हैं, लेकिन 50 साल से अधिक आयु पूरी कर चुके इन डैमों का हर साल मेन्टेनेंस नहीं हुआ, तो टारगेट पूरा करना तो दूर, इनके दरकने का भी खतरा बन जाएगा, क्योंकि बारिश के समय यदि पूरी क्षमता से इन बांधों में पानी भरा गया तो इनके टूटने से जन हानि भी संभावित है। वैसे वर्ष 2019-20 में इनके मेंटेंनस के नाम पर जल्दबाजी में विभाग ने मात्र 20 करोड़ रुपए ही खर्च किए थे।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Peoples Samachar
Top