Monday, 28 Sep, 9.21 pm प्रभा साक्षी

लाइफस्टाइल
भारत के इन ऐतिहासिक स्थलों की बात है निराली, जानिए आप भी

भारत का अपना एक ऐतिहासिक महत्व है। यहां पर आपको भव्य महल से लेकर प्राचीन किले और राजसी संरचनाएं पूरी दुनिया के आकर्षण का केन्द्र है। भारत का अपना एक समृद्ध इतिहास रहा है, जिसकी झलक आज भी देखी जा सकती है। भारत के इतिहास को करीब से देखने और जानने के लिए लोग विदेशों से यहां आते हैं। तो चलिए आज हम आपको भारत के कुछ ऐतिहासिक स्थलों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आपको एक बार जरूर देखना चाहिए−

कम बजट में पार्टनर के साथ इन रोमांटिक जगहों पर जाना रहेगा खास!

ताजमहल, आगरा

आगरा का ताजमहल किसी पहचान का मोहताज नहीं है। दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताजमहल पूरी दुनिया में आकर्षण का केन्द्र है। उत्तर प्रदेश के आगरा में स्थित ताजमहल को देखने के लिए लोग दूर−दूर से आते हैं। वैसे तो ताजमहल बनने के बाद बहुत से लोगों ने इसे बनाने की कोशिश की, लेकिन पूरी तरह से कोई भी कामयाब नहीं हो पाया। इस भव्य सफेद संगमरमर की सरंचना को 1632 में शाहजहां द्वारा अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में बनवाया गया था। इस शानदार इमारत को बनने में करीबन 22 साल लग गए थे।

आगरा का किला

अगर आप मुग़ल काल के समृद्ध इतिहास की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आगरा के किले को देखें। यह भारत के प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थानों में से एक है जो पूरी तरह से लाल बलुआ पत्थर से निर्मित है। 1565 में अकबर द्वारा निर्मित, भारत के इस ऐतिहासिक पर्यटन स्थल में दो सजावटी द्वार हैंः अमर सिंह गेट और दिल्ली गेट। आप प्रवेश द्वार, दरबार, मार्ग, महल और मस्जिदों से भरे एक प्राचीन शहर को देखने के लिए केवल अमर सिंह गेट से प्रवेश कर सकते हैं। यह आगरा में घूमने के लिए सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है।

पहली बार जाएं लंदन तो जरूर घूमें इन जगहों पर

हुमायूं का मकबरा

भारतीय और फारसी वास्तुकला का एक सुंदर संश्लेषण, हुमायूँ का मकबरा भारत में सबसे प्रसिद्ध और महत्वपूर्ण स्थानों में से एक है। हुमायूँ की पत्नी हमीदा बानू बेगम ने 15 वीं शताब्दी में अपने पति के लिए इस मकबरे का निर्माण शुरू किया। धनुषाकार एल्कॉवर्स, सुंदर गुंबद, विस्तृत गलियारे और कियोस्क− सभी इस स्मारक को भारतीय वास्तुकला की भव्यता बनाते हैं। मुख्य मकबरे के दक्षिण−पश्चिम की ओर एक नाई का मकबरा भी है। यह दिल्ली के सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है, जहां आपको निश्चित रूप से जाना चाहिए।

हवा महल, जयपुर

हवा महल की संरचना आज भी हर किसी को अंचभित करती है। यह अपनी 953 खिड़कियों के साथ मधुमक्खी के छत्ते की तरह दिखता है। इसे महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने बनाया था, जो भगवान कृष्ण के एक प्रमुख भक्त थे। यह जयपुर के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। इस महल को दुनिया की सबसे ऊंची इमारत के रूप में जाना जाता है, जिसकी कोई नींव नहीं है। महल घुमावदार है लेकिन फिर भी इसकी पिरामिड आकार के कारण मजबूती से खड़ा है। यह माना जाता था कि यह इमारत इसलिए बनाई गई थी ताकि शाही महिलाएं बाहर देख सकें, क्योंकि उस समय परदा प्रथा थी।

मिताली जैन

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Prabha Sakshi
Top