Friday, 02 Feb, 5.01 am Punjabkesari.com

अन्य
ये हैं बेवफा शायरी जो आपको एक बार फिर से याद दिला देगी आपके बेवफा प्यार की

आज हम एक बार फिर से आपके लिए शायरियों के पिटारे में से कुछ शायरी आपके लिए लेकर आएं हैं। दुनिया में शायरी के प्रेमी काफी सारे हैं। बहुत ऐसे लोग हैं जिन्हें शायरी पसंद होती है। कुछ तो ऐसे भी लोग हैं जो शायरी लिखते भी हैं। उन्हें शायरी लिखने का बेहद शौक होता है।

आज हम आपके लिए ऐसे ही कुछ बेवफाई की शायरी आपके लिए लेकर आएं हैं। इन शायरियों में बहुत दर्द है तो आपके दर्द को एक बार फिर तरो ताजा कर सकता है। लेकिन जरूरी नहीं कि यह शायरियां दर्द में ही सुनी जाएं हम इन शायरियों को खुशी में भी सुन सकते हैं। चलिए शायरियों पर एक बार फिर से नजर डालते हैं।

मैंने प्यार किया बड़े होश के साथ!
मैंने प्यार किया बड़े जोश के साथ!
पर हम अब प्यार करेंगे बड़ी सोच के साथ!
क्योंकि कल उसे देखा मैंने किसी और के साथ!

कहती है दुनिया जिसे प्यार, नशा है , खताह है!
हमने भी किया है प्यार , इसलिए हमे भी पता है!
मिलती है थोड़ी खुशियाँ ज्यादा गम!
पर इसमें ठोकर खाने का भी कुछ अलग ही मज़ा है!

वो छोड़ के गए हमें;
न जाने उनकी क्या मजबूरी थी;
खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं;
ये कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी।

प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना;
अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना;
वो चाहे लाख नफरते करें तुमसे;
पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम न करना।

हम तो तेरे दिल की महफ़िल सजाने आए थे;
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आए थे;
किस बात की सजा दी तुने हमको बेवफा;
हम तो तेरे दर्द को अपना बनाने आए थे।

दो दिलों की धड़कनों में एक साज़ होता है;
सबको अपनी-अपनी मोहब्बत पर नाज़ होता है;
उसमें से हर एक बेवफा नहीं होता;
उसकी बेवफ़ाई के पीछे भी कोई राज होता है!

चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये है;
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये है;
महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश;
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ

Dailyhunt
Top