Saturday, 27 Feb, 7.36 pm पंजाब केसरी

होम
एक मार्च से गुजरात के निजी अस्पतालों में लगवाएं कोरोना वैक्सीन, जानिए कितने चुकाने होंगे पैसै

उप मुख्यमंत्री एवं राज्य के स्वास्थ्य विभाग का भी प्रभार संभाल रहे नितिन पटेल ने कहा कि 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति और पहले से किसी अन्य बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोग राज्य में 2,000 से अधिक सरकारी अस्पतालों में नि:शुल्क टीका लगवा सकते हैं।

नेशनल डेस्क: कोरोना के खात्मे के लिए पूरे देश में टीकाकरण अभियान जारी है। एक मार्च से शुरू हो रहे दूसरे चरण के टीकाकरण अभियान में गुजरात सरकार ने वैक्सीन की कीमत तय कर दी है। सूबे के लोगों को निजी अस्पताल में 250 रुपये चुकाने होंगे, वहीं सरकारी अस्पताल में यह मुफ्त में मिलेंगी। राज्य सरकार ने शनिवार को यह घोषणा की।


उप मुख्यमंत्री एवं राज्य के स्वास्थ्य विभाग का भी प्रभार संभाल रहे नितिन पटेल ने कहा कि 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति और पहले से किसी अन्य बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोग राज्य में 2,000 से अधिक सरकारी अस्पतालों में नि:शुल्क टीका लगवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आरोग्य योजना और राज्य सरकार की 'मा वात्सल्य योजना' के तहत सूचीबद्ध किये गये निजी अस्पतालों में प्रति खुराक 250 रुपये भुगतान कर टीका लगवाया जा सकता है, जिसमें टीके की कीमत 150 रुपये और अन्य शुल्क के तौर पर 100 रुपये लिये जाएंगे।

पटेल ने कहा कि राज्य सरकार, इन योजनाओं के तहत सूचीबद्ध सरकारी और निजी अस्पतालों को टीके की आपूर्ति करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि कोविड-19 के टीके फिलहाल खुला बाजार में उपलब्ध नहीं होंगे। गुजरात में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों में क्रमिक रूप से वृद्धि हो रही है। राज्य में 26 फरवरी को संक्रमण के 460 नये मामले सामने आने के साथ कुल मामलों की संख्या बढ़ कर 2,69,031 हो गई।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: PunjabKesari
Top