Saturday, 04 Nov, 11.21 am पंजाब केसरी

रिश्ते नाते
जानिए क्यों शादी के लिए लड़का और लड़की में उम्र का फासला है सही

शादी का फैसला लड़की और लड़के दोनों के लिए सबसे अहम और महत्वपूर्ण होता है। इसलिए हर कोई शादी का फैसला सोच समझ कर लेता है लेकिन फिर भी दोनों के मन में यह सवाल होता है कि दोनों की उम्र में कितना फासला होना चाहिए। आज हम आपको बताएंगे कि आखिर शादी के दोनों के बीच कितनी उम्र का फासला परफेक्ट होता है।

-एक बॉयोलॉजिकल तर्क के अनुसार शादी के लिए दोनों के बीच उम्र के फासले के पीछे फिजकली, इमोशनली और फाइनेंशली कारण होते है। इसके अलावा पुरूषों के मुकाबले ढलती उम्र के लक्षण महिलाओं की तुलना में देर से नजर आते है। इसलिए लड़को के लिए शादी की सही उम्र 28 और लड़कियों की उम्र 25 होनी चाहिए।

-लड़कियां शादी के बाद अपने मायको को लेकर भावुक हो जाती है। ऐसे में लड़कियों से 2-3 साल ज्यादा उम्र होने पर लड़के उन्हें इमोशनली सहारा दे सकते है।

-लड़का और लड़की की समान उम्र होने पर दोनों के बीच झगड़े भी ज्यादा होते है। क्योंकि दोनों की सोच एक जैसी होने के पर वो एक दूसरे की बात सुनना पंसद नहीं करते है।

-अलावा रिश्तें में होने वाली छोटी-मोटी प्रॉब्लम को लड़के अच्छी तरह हैंडल कर लेते है। क्योंकि लव मैरिज हो या अरेंज अक्सर लड़कियों को ससुराल की बातें समझने में समय लग जाता है।

-अगर लड़का नौकरी कर रहा है तो दोनों के बीच 3-4 साल का फासला होना जायज है। इस तरह के लड़के फाइनेंशली स्ट्रांग होने पर पत्नी की सारी जिम्मेदारियों को अच्छी तरह निभाते है।

-दोनों के बीच उम्र का अंतर होने पर रिस्पेक्ट बनी रहती है और झगड़े कम होते है। उम्र में अंतर होने पर दोनों किसी चीज में संतुलन सही तरीके से बना सकते है।

-लड़की और लड़के के बीच एज-गैप होने से रिलेशनशिप में संतुलन बना रहता है। इसके साथ ही दोनों एक-दूसरे की परिवार की जिम्मेदारियों को भी अच्छे से समझते है।

फैशन हाे या ब्यूटी टिप, महिलाअाें से जुड़ी हर जानकारी के लिए डाउलनाेड करें NARI APP



Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: PunjabKesari
Top