Sunday, 25 Feb, 1.36 am समाचार नामा

बिज़नेस
आईएफएल ने किफायती आवास वित्त ऋण की घोषणा की, जानिए इसके बारे में !

बीएसई में सूचीबद्ध एनबीएफसी (गैरबैंकिंग वित्तीय कंपनी) कंपनी इंडिया फिनसेक लिमिटेड और इसकी सहायक कंपनी आईएफएल हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड ने देश में किफायती आवास वित्त ऋण प्रदान करने की घोषणा की है। कंपनी ने शनिवार को एक बयान में कहा कि इंडिया फिनसेक लिमिटेड (आईएफएल) और इसकी सहायक कंपनी आईएफएल हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (आईएफएल) को हाल ही में संपूर्ण भारत में घरेलू ऋण देने के लिए नेशनल हाउसिंग बैंक से लाइसेंस प्राप्त हुआ है। कंपनी की योजना समाज के निचले स्तर तक पहुंचने की है, जिससे कम आय समूह के, ईडब्लूएस श्रेणी के और अनौपचारिक आय वाले लोग परेशानी से मुक्त, सरल, शीघ्र और पारदर्शी प्रक्रिया द्वारा खुद के लिए घर बनाने का सपना पूरा कर सकेंगे।

बयान में कहा गया कि आईएफएल हाउसिंग फाइनेंस का विजन भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रस्तावित नेशनल मिशन फॉर अर्बन हाउसिंग के तहत 2022 तक सभी के लिए आवास की योजना में योगदान करने का है।

आईएफएल हाउसिंग फाइनेंस के प्रबंध निदेशक गोपाल बंसल ने कहा, "सभी के लिए आवास मिशन के तहत 2022 तक 2 करोड़ घरों के निर्माण का उद्देश्य है और आईएफएल हाउसिंग का अनुमान है कि पूर्ण भारत में किफायती हॉउसिंग के लिए क्रेडिट की मांग 10 लाख करोड़ रुपये से अधिक होगी। हमारे ग्राहक अनुकूल प्रक्रिया, नीतियों और वितरण के साथ हम निश्चित रूप से उद्योग में वृद्धि करेंगे।"

उन्होंने बताया कि पहले चरण में, कंपनी की उत्तरी भारत के राज्यों को कवर करने की योजना है जिसमें दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा, राजस्थान और पंजाब शामिल है, जिसे बाद में भारत के अन्य हिस्सों में विस्तारित किया जाएगा।

आईएफएल हाउसिंग फाइनेंस के डायरेक्टर गौरव सूरी ने कहा, "हम उन लोगों को होम लोन प्रदान करेंगे जो कई कारकों के कारण ऋण पाने के लिए अप्रयुक्त रहते हैं जैसे कि कम या बिना कोई क्रेडिट स्कोर वाले व्यक्ति, आयकर रिटर्न दाखिल न करने वाले व्यक्ति, धन उधार देने वाले धन्ना सेठ के दुष्चक्र में फंसे व्यक्ति इत्यादि। हमारा विचार किसी भी दस्तावेज के बिना हर किसी के लिए आसान ऋण प्रदान करना है ताकि उन्हें अपने सपनों का घर मिलने में सहायता मिल सके, जिससे उनके जीवन में महत्वपूर्ण बदलाव आए।"

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Samacharnama
Top