Saturday, 14 Dec, 10.53 am The Hind Tech

न्यूज़ अपडेट
सर्दिया आते ही बुजुर्गों में जोड़ो के दर्द की समस्या ज्यादा बढ़ जाती हैं, जानिए इसका कारण

जैसे जैसे लोगों की उम्र बढ़ती जाती हैं, वैसे वैसे लोगों में जोड़ो के दर्द की समस्या बढ़ जाती हैं। सर्दियों के समय बुजुर्गों में जोड़ो के दर्द की समस्या कुछ ज्यादा ही बढ़ जाती हैं। वातावरण में तापमान की कमी होने से जोड़ो की रक्तवाहिनिया सिकुड़ने लगती हैं और उस हिस्से में रक्त का तापमान कम हो जाता हैं, इसके कारण जोड़ो में अकड़न होने लगती हैं और साथी ही दर्द होने लगता हैं।

उम्र के साथ हड्डियों से कैल्शियम, आयरन और अन्य खनिज पदार्थ कम होने लगते हैं। ठंड के मौसम में त्वचा ठंडी होती हैं, इसकी वजह से ऐसे मौसम में जोड़ो के दर्द की समस्या ज्यादा महसूस होती हैं। सर्दियों के मौसम में हमारे दिल के आसपास रक्त की गर्माहट बनाए रखना जरूरी हैं। जोड़ो के दर्द को डॉक्टर आर्थराइटिस कहते हैं।

आर्थराइटिस की समस्या पुरुष और महिलाओं को आमतौर पर 40 साल के बाद होने लगती हैं।हमारे पूरे शरीर का भार घुटने उठाते हैं, इसलिए आर्थराइटिस की समस्या बढ़ जाती हैं। इनके कई तरह के लक्षण होते हैं, जैसे कि सूजन, बुखार, जोड़ो में दर्द, मांसपेशियों में कमजोरी आना।

* कैसे बचाव कर सकते हैं जोड़ो के दर्द से?

1) सबसे पहले सुबह के वक्त नियमित व्यायाम और पौष्टिक आहार लेना चाहिए।

2) सुबह के धूप में विटामिन डी होता हैं, जो हड्डियों के लिए फायदेमंद होता हैं, इसलिए सुबह के वक्त थोड़ा समय धूप में बैठना जरूरी हैं।

3) ऑफिस में काम करने वाले लोग हर एक घंटे में खुर्सी से उठकर पांच मिनट तक घूमे इसकी वजह से हड्डियों की अकड़ होने से बचाया जाता हैं।

4) महिलाए ऊंची हिल की सैंडल न पहने, ज्यादा हिल पहनेसे घुटनों के साथ कमर भी अकड़ जाती हैं।

5) योग और प्राणायम यह प्राणायम यह आर्थराइटिस से बचने का सबसे अच्छा उपाय हैं।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Thehindtech
Top