Thursday, 06 Aug, 12.34 am वेबदुनिया

मुख्य समाचार
Uttar Pradesh Coronavirus Update : सामने आए 4000 से अधिक नए मामले, नियमों की अनदेखी पर हाईकोर्ट की सख्त चेतावनी

पुनः संशोधित बुधवार, 5 अगस्त 2020 (23:11 IST)

लखनऊ। उत्तरप्रदेश में बुधवार को कोविड-19 के 4000 से अधिक नए मामले सामने आए जबकि 40 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 1857 हो गई। राज्य सरकार के एक बयान के मुताबिक पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 4154 नए मामले आए। इस तरह राज्य में संक्रमितों की संख्या 1,04,388 हो गई है।


बयान में कहा गया कि 41,973 मरीजों का उपचार चल रहा है जबकि 60,558 लोगों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुटटी मिल चुकी है। बयान के अनुसार बीते 24 घंटे के दौरान 40 मौतों में से सबसे अधिक 6 मौतें कानपुर में हुई। वाराणसी, झांसी, ललितपुर में तीन-तीन तथा प्रयागराज, बरेली, बुलंदशहर, चंदौली और बस्ती में 2-2 लोगों की मौत संक्रमण के कारण हुई। बयान में कहा गया कि संक्रमण के सबसे अधिक 459 मामले कानपुर नगर से सामने आए। लखनऊ से 336 और प्रयागराज से 204 नए मामले सामने आए हैं।

हाईकोर्ट ने दी चेतावनी : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के पालन में शासन की लापरवाही को गंभीरता से लिया है और सख्त लहजे में चेतावनी दी है कि यदि शासन की सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के पालन में लापरवाही की शिकायत मिली तो न्यायालय स्वयं कार्रवाई करने को विवश होगी।

न्यायालय ने कहा है कि जिला प्रशासन व पुलिस की जिम्मेदारी है कि वह केन्द्र सरकार के मास्क पहनने व शारीरिक दूरी बनाए रखने के नियमों का कड़ाई से पालन कराएं। क्वारंटाइन सेंटर्स की दुर्दशा व अस्पतालों में इलाज की बेहतर सुविधाओं को लेकर कायम जनहित याचिका की सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा तथा न्यायमूर्ति अजित कुमार की खंडपीठ ने सरकारी कार्रवाई पर असंतोष जताते हुए यह आदेश दिया है।

न्यायालय ने प्रदेश के सभी जिला अधिकारियों व पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिया है कि दो गज की शारीरिक दूरी व मास्क पहनने के नियम का पालन न करने वाली दुकानें बंद कर मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाए। यदि पुलिस ढिलाई बरते तो लापरवाह पुलिस के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए।

जोनपुर में 2500 मामले : जौनपुर में कोरोना संक्रमण थम नहीं रहा है और बुधवार को भी 95 और नए मामलों की पुष्टि हुई है। जिले में इनकी संख्या बढ़कर 2500 हो गई है। जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि राहत की बात यह है कि 2500 में से अब तक 1293 मरीज ठीक हो चुके हैं। इनके अलावा 34 की मृत्यु हो चुकी है।

उन्होंने बताया कि जिले में अभी 1173 कोरोना के एक्टिव केस हैं, जिनका इलाज चल रहा है।

मथुरा में पॉश कॉलोनियों में कोरोना का कहर : मथुरा में बुधवार को कोरोना संक्रमण के नए 49 और मामले मिलने के बाद जिले में इनकी संख्या बढ़कर 1018 हो गई है। जिला स्वास्थ्य सूचना एवं शिक्षा अधिकारी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि मंगलवार की रात से बुधवार शाम तक प्राप्त जांच रिपोर्ट में 49 नये संक्रमित मिले। उन्होंने बताया कि इनमें 29 संक्रमित 40 वर्ष तक से कम आयु के हैं। जिले में अब तेजी से देहात और शहर की पॉश कॉलोनियों में भी कोरोना पैर पसार रहा है।

उन्होंने बताया कि आज रिपोर्ट में एक वर्ष की आयु के भी दो बच्चे हैं तथा 14 वर्ष से कम आयु के 10 बच्चे संक्रमित मिले हैं। इनमें एक पुलिस अधिकारी भी संक्रमित है जबकि 16 महिलाएं भी संक्रमित हैं। आज 12 संक्रमित स्वस्थ भी हुए है जिससे संक्रमण से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर अब 664 हो गई है। जिले में अभी 318 कोरोना एक्टिव हैं। अभी तक 36 की मृत्यु हो चुकी है।

बाराबंकी में 30 नए मरीज : बाराबंकी में बुधवार को 30 नए और कोरोना संक्रमितों के मिलने के बाद जिले में इनकी संख्या बढ़कर 1447 हो गई है। जिला अधिकारी डॉक्टर आदर्श सिंह के अनुसार आज प्राप्त जांच रिपोर्ट में 30 लोग संक्रमित मिले हैं। सभी को एल-1 लेवल के अस्पताल भेज दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम इनके संपर्क में आए लोगों को चिन्हित करके जांच कर रही है।

उन्होंने बताया कि अब तक 30902 लोगों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जिसमें से 1447 लोग संक्रमित मिले हैं। अभी तक 917 मरीज ठीक हो चुके है जबकि 515 कोरोना एक्टिव हैं, जिनका उपचार जारी है।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Webduniya Hindi
Top