Friday, 23 Oct, 4.47 pm अग्निबाण

होम
बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, सेंसेक्स 127 अंक उछला

मुम्बई। कारोबारी सप्ताह के आखिरी दिन शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार के दोनों प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी बढ़त के साथ बंद हुए।

कारोबार के अंत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 127.01 अंक या 0.31 फीसदी की मजबूती के साथ 40,685.50 के स्‍तर पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक निफ्टी 33.90 अंक ऊपर 11,930.35 पर बंद हुआ।

आज निफ्टी-50 इंडेक्स में शामिल 29 कंपनियों के शेयरों में तेजी और 21 के शेयरों में गिरावट रही, जबकि बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का टोटल मार्केट कैप 160 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच गया।

आज के कारोबार में मेटल और आईटी समूह के शेयरों में तेजी रही। वहीं, बैंकिंग इंडेक्स में हल्की गिरावट देखने को मिली। निफ्टी में मारुति का शेयर 4 फीसदी ऊपर बंद हुआ है। ऑटो इंडेक्स में भारत फोर्ज का शेयर 6 फीसदी बढ़त के साथ बंद हुआ है। इसके अलावा टाटा स्टील के शेयर में 3 फीसदी से ज्यादा की बढ़त रही। पावर ग्रिड के शेयर में भी 2 फीसदी से ज्यादा की बढ़त दर्ज की गई।

दूसरी ओर अल्ट्राटेक सीमेंट का शेयर 2 फीसदी नीचे बंद हुआ है। इसके अलावा हिंदुस्तान यूनिलीवर और एचसीएल टेक के शेयरों में भी 1-1 फीसदी की गिरावट रही। सुबह बीएसई सेंसेक्स 169.9 अंक ऊपर 40,728.39 पर और निफ्टी 61.45 अंक ऊपर 11,957.90 स्तर पर खुला था।

रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 7 पैसे की कमजोरी के साथ 73.61 रुपये पर बंद

डॉलर की मजबूती की वजह से भारतीय रुपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 7 पैसे टूटकर 73.61 रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया कमजोर रुख के साथ 73.62 के स्तर पर खुला और शुरुआती सौदों में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले गिरावट दर्ज करते हुए 73.65 के स्तर पर आ गया, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले 11 पैसे की कमजोरी को दर्शाता था। दिन के करोबार के दौरान रुपया में सुधार हुआ और यह सात पैसे कमजोर होकर 73.61 रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ। ज्ञात हो कि रुपया गुरुवार को अमेरिकी मुद्रा डॉलर के मुकाबले चार पैसे बढ़कर 73.54 के स्तर पर बंद हुआ था। (एजेंसी, हि.स.)

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Dainik Agniban
Top