Saturday, 09 Nov, 9.04 am हिन्दुस्थान समाचार

ब्रेकिंग
गांधी की विचारधारा से ही आएगा देश में सु-राज: आरके सिन्हा

फैजान अहमद

गया, 09 नवम्बर (हि.स.)। सांसद आरके सिन्हा ने कहा है कि अब तक देश में बापू के नाम पर बहुत नाटक हो चुका है। बावजूद इसके इसमें किसी को कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि देश में असली सु-राज गांधी की विचारधारा को आत्मसात करने से ही आएगा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता और राज्यसभा सदस्य सिन्हा ने यह बात गांधी संकल्प यात्रा के दौरान कही। उन्होंनेगुरुवार और शुक्रवार को जहानाबाद, मखदूमपुर, गया और बौद्धों के सबसे पवित्र स्थल बोध गया में बैठक की और लोगों को बताया कि अगर गांधी के विचारों और आदर्शों को अमलीजामा पहनाया गया होता तो देश में बापू का रामराज आ जाता लेकिन दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हुआ।

उन्होंने कहा, गांधी संकल्प यात्रा कासबसे सुखद अनुभव यह है कि जनता महात्मा के विचारों को सुनना, समझना और उन्हें अपने जीवन में अपनाना चाहती है। सिन्हा ने कहा-कांग्रेस की सरकारों और बापू का अनुयायी कहने का स्वांग भरने वालों ने बापू के नाम का नाटक तो बहुत किया, यहां तक कि गांधी का नाम तक चुरा कर अपने नाम में जोड़ लिया लेकिन महात्मा के रामराज के सूत्र पर अमल नहीं किया।

इस यात्रा के दौरान विशेष साक्षात्कार में सिन्हा ने कहा कि जब 2014 में नरेन्द्र मोदी की सरकार बनी तो प्रधानमंत्री ने संकल्प लिया कि बापू के अधूरे सपनों को पूरा करेंगे। मोदी ने ऐसी सारी योजनाओं पर अमल करना शुरू कर दिया जो सपना तो बापू का था लेकिन उन्हें जमीन पर उतारने का सौभाग्य मोदी को मिला। स्वयं प्रधानमंत्री मोदी ने संकल्प यात्रा का उद्देश्य तय किया कि गांधी की 150वीं जयंती पर जनता को उनके आदर्शों का पाठ पढ़ाया जाए।

सिन्हा ने कहा कि उन्होंने अपनी चार महीने की यात्रा की टैगलाइन "बापू का राम राज और मोदी का सु-राज" तय की। वह कहते हैं कि यात्रा का उद्देश्य सामाजिक परिवर्तन और सुधार, साम्प्रदायिक सद्भाव, समाज में बराबरी का संदेश लोगों तक बिना किसी जातीय, धार्मिक और राजनितिक भेदभाव के पहुंचाना है। इसमें कहीं कोई राजनीति नहीं है। जहानाबाद के अंबेडकर चौक तिराहे पर गुरुवार को भव्य आयोजन में भाजपा के वरिष्ठ नेता आरके सिन्हा ने कहा कि वह लोगों के बीच गांधी की बातों को दोहरा रहे हैं। जैसा कि उन्होंने जैविक कृषि, खादी, चरखा, कुटीर उद्योग,, छुआछूत, स्वच्छता इत्यादि के बारे में कही थीं लेकिन लोगों ने नोट पर गांधी का फोटो छाप कर घूसखोरी का रास्ता निकाल लिया और नाम चुरा कर रातों रात गांधी बन गए। जनता सब जान रही है कि धोखा कौन दे रहा है। आज कांग्रेस कह रही है कि भाजपा ने गांधी को चुरा लिया।

देश के उच्च सदन के सदस्य सिन्हा ने कहा, सच्चाई यह है कि प्रधानमंत्री मोदी ने गांधी के उपदेशों को जमीन पर उतारा है। मखदूमपुर, गया और बोधगया में जनता ने सिन्हा की बातों को पूरी संजीदगी और ध्यान से सुना और इस बात की सराहना की कि भाजपा सांसद ने पूरे बिहार में भ्रमण कर गांधी के उपदेशों को जनता को बताने का निर्णय लिया है। सिन्हा की मीटिंग में मौजूद मखदूमपुर के जग नारायण महतो कहते हैं, "यह बहुत सराहनीय कदम है, क्योंकि नई नस्ल गांधी को केवल आइकॉन के तौर देखती है लेकिन उनकी कही हुई बातों से बिलकुल अनजान है।"

सांसद सिन्हा ने कहा, 'जब मैं गांधी के विचारों और रामराज की बात करता हूं तो श्रोता पर बहुत प्रभाव पड़ता है। उन्हें यह भी आश्चर्य होता है कि बापू के सिद्धान्तों को पिछली सरकारों ने क्यों नहीं अमलीजामा पहनाया। मुझे तो यह भी देख कर सुखद आश्चर्य हुआ कि बहुत से गांधीवादी, जिन्होंने पूरी उम्र कांग्रेस में गुजार दी, मेरे कार्यक्रम में न केवल आए बल्कि वह मेरे स्टेज से बोलने को लालायित दिखे। मैंने खुशी से उनका स्वागत किया। उन लोगों को इस बात का मलाल है कि कांग्रेस की सरकारों ने बापू को भुला दिया।'

अपने कार्यक्रम में थोड़ा रंग भरते हुए सिन्हा ने गायकों और संगीतकारों की सेवाएं भी ली हैं, जो अलग- अलग परिकल्पना पर गाने गाते हैं, जो गांधी की विचारधारा पर आधारित हैं। ये गीत विभिन स्थानीय बोली जैसे भोजपुरी, मगही और मैथिली में होते हैं, यानी जैसा क्षेत्र वैसी बोली-भाषा। खुद सिन्हा भी स्थानीय बोली में ही अपनी बात रखते हैं।सिन्हा 2 अक्टूबर से गांधी संकल्प यात्रा पर हैं।अब तक दो चरणों में चंपारण के बेतिया और मोतिहारी, शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, नालंदा, मुंगेर, जमुई, शेखपुरा, नवादा और पटना ग्रामीण क्षेत्र के बाढ़, बख्तियारपुर और फतुहा में जनता को गांधी के विचारों को अवगत करा चुके हैं। उनकी यह यात्रा गांधी की पुण्य तिथि 30 जनवरी, 2020 को पूर्ण होगी।

हिन्दुस्थान समाचार

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Hindusthan Samachar
Top