Thursday, 16 Sep, 11.18 pm आउटलुक

होम
कोरोना से हुई मौतों को लेकर कांग्रेस ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा- सरकार और ICMR के अधिकारियों की हो आपराधिक जांच

कांग्रेस ने गुरुवार को कोरोना वायरस को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) पर कई गंभीर आरोप लगाए। कांग्रेस ने आईसीएमआर पर अपने राजनीतिक आकाओं को खुश करने के लिए कोरोना काल में लोगों की मौत का आंकड़ा छिपाने का आरोप लगाया तथा मांग की कि मामले में आपराधिक जांच होनी चाहिए।

कांग्रेस महासचिव अजय माकन ने कहा, 'आईसीएमआर और अन्‍य संगठनों में काम करने वाले वरिष्‍ठ वैज्ञानिक भी कोरोना प्रबंधन की अनियमितताओं को लेकर अब आगे आ रहे हैं। वरिष्‍ठ वैज्ञानिकों ने आईसीएमआर में राजनीतिक हस्तक्षेप और डेटा की हेराफेरी की ओर भी इशारा किया है। अगर कोरोना प्रबंधन में राजनीतिक हस्‍तक्षेप नहीं होता तो लाखों मौतों को रोका जा सकता था।'

माकन ने एक अंतरराष्ट्रीय पत्रिका 'इकोनॉमिस्ट' की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि इसके अनुसार, भारत में कोरोना के कारण होने वाली मौतों का आंकड़ा 43 लाख से 68 लाख के बीच हो सकता है। उन्होंने दावा किया कि आईसीएमआर के कुछ प्रमुख वैज्ञानिकों को हटना पड़ा क्योंकि सरकार की ओर से दबाव बनाया जा रहा था। इन लोगों ने जो बातें सामने रखी हैं वो बहुत गंभीर हैं।, इन वैज्ञानिकों ने कहा है कि लॉकडाउन के मामूली असर से जुड़े अध्ययन को दबाव बनाकर वापस करवाया गया। आईसीएमआर पर दबाव बनाया गया और कहलवाया गया कि भारत में कोविड 19 तेजी से नहीं फैल रहा है। आईसीएमआर के अध्ययन में यह स्पष्ट हो गया था कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और ब्लड प्लाज्मा से कोई फायदा नहीं है, लेकिन इस तथ्य को भी छिपाया गया है। इससे जनता को नुकसान हुआ।

Dailyhunt
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Dailyhunt. Publisher: Outlook Hindi
Top