सिर्फ एक बटन के क्लिक पर ' गिरगिट' की तरह रंग बदलेगी कार, BMW ने पेश की नई तकनीक

Drive Spark via Dailyhunt

कई बार कुछ लोगों के साथ ऐसा होता है कि वे अपनी कारों के एक्सटीरियर कलर से ऊब जाते हैं, लेकिन मजबूरी यह है कि वे कार के एक्सटीरियर कलर को बदल नहीं सकते हैं।

लेकिन अब ऐसे लोगों को निराश होने की जरूरत नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि लग्जरी कार निर्माता कंपनी BMW एक ऐसी तकनीक पेश करने वाली है, जिसके इस्तेमाल से सिर्फ एक क्लिक पर कार का कलर बदला जा सकता है।

BMW के पास एक ऐसी तकनीक है, जो आपके वाहन को एक बटन के एक क्लिक के साथ गिरगिट की तरह अपना रंग बदल सकती है।

BMW ने Consumer Electronics Show ( CES) 2022 में हाल ही में पेश की गई BMW iX M 60 इलेक्ट्रिक एसयूवी में इस तकनीक का इस्तेमाल किया गया है।

BMW ने CES 2022 में एक प्रदर्शन के माध्यम से अपनी इस तकनीक का प्रदर्शन किया था। इस वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे BMW iX M 60 गहरे भूरे रंग की एक साधारण छाया में दिखाई देता है लेकिन अचानक ही यह कार सफेद रंग में परिवर्तित हो जाती है।

इसके बाद इस वीडियो में जर्मन कार निर्माता कंपनी BMW के तकनीशियनों ने इस तकनीक के बारे में जानकारी दी है। BMW की पेंट- चेंज तकनीक e- पेपर का उपयोग करती है। यह वही फीचर है, जोकि e- readers जैसे e- Readers में उपयोग की जाती है।

इस फीचर को BMW iX Flow नामक एक कॉन्सेप्ट वर्जन में चित्रित किया गया है। इसे काम करने के लिए E-I nk के साथ BMW iX Flow की सतह कोटिंग में मानव के बाल की मोटाई के बराबर व्यास वाले लाखों माइक्रोकैप्सूल का इस्तेमाल किया गया है।

इनमें से प्रत्येक माइक्रोकैप्सूल में नकारात्मक रूप से चार्ज किए गए व्हाइट रंगद्रव्य और सकारात्मक रूप से चार्ज किए गए ब्लैक कलर के वर्णक होते हैं।

BMW AG, डेवलपमेंट के प्रबंधन बोर्ड के सदस्य, Frank Weber ने इस तकनीक के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि " डिजिटल एक्सपीरिएंस केवल भविष्य में प्रदर्शित होने तक ही सीमित नहीं रहेंगे। इस तकनीक में वास्तविक और आभासी का अधिक से अधिक मेल होगा।

हमारी नई BMW iX Flow तकनीक के साथ, हम कार की बॉडी को एक तरह से जीवित कर रहे हैं।"

https://www.youtube.com/embed/tcLX9wcPQT4?rel=0

वहीं BMW ग्रुप डिजाइन के प्रमुख, Adrian van Hooydonk ने इस बारे में कहा कि " नई BMW iX Flow एक उन्नत अनुसंधान और डिजाइन परियोजना है और आगे की सोच का एक बड़ा उदाहरण है, जिसके लिए BMW जाना जाता है।"

जानकारी के अनुसार इस तकनीक को इलेक्ट्रोफोरेटिक कलर कहा जाता है और विद्युत क्षेत्र के माध्यम से चुने गए विन्यास के आधार पर, व्हाइट या ब्लैक रंगद्रव्य को माइक्रोकैप्सूल की सतह पर जमा कर दिया जाता है, जिससे कार की बॉडी को इच्छानुसार टोन दिया जा सकता है।

कार के कलर को एक बटन के स्पर्श से चुना जा सकता है। हालांकि अभी के लिए कंपनी ने सिर्फ व्हाइट, ब्लैक और ग्रे कलर का ही विकल्प दिया है।

BMW द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, यह अनुकूलन सुविधा पर्यावरणीय परिस्थितियों या यहां तक कि कार्यात्मक आवश्यकताओं का भी जवाब दे सकती है।

पूरी कहानी देखें