दिसंबर 2021 में कैसी रही बजाज चेतक और टीवीएस आईक्यूब की बिक्री, देखें किसने मारी बाजी

Drive Spark via Dailyhunt

दिसंबर 2021 में इलेक्ट्रिक स्कूटर्स को शानदार प्रतिक्रिया मिली है और जिस वजह से बिक्री शानदार हुई है।

बजाज चेतक और टीवीएस आईक्यूब इस सेगमेंट में एक दूसरे को कड़ी टक्कर देते हैं और बीते महीने दोनों की ही बिक्री में पिछले साल के मुकाबले शानदार वृद्धि हुई है, हालांकि इसमें टीवीएस की आईक्यूब इलेक्ट्रिक ने बाजी मारी है और हजार का आंकड़ा भी पार कर लिया।

कार और बाइक पर लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए यहां क्लिक करें

बजाज चेतक की बुकिंग कंपनी ने कुछ समय पहले बंद कर दी थी लेकिन अब फिर से इसे शुरू कर दिया गया है। कंपनी ने चिप की समस्या के चलते ऐसा किया था और अब फिर से इसका उत्पादन शुरू कर दिया है।

दिसंबर में इसकी 728 यूनिट बेचीं गयी है, जबकि दिसंबर 2020 में यह बिक्री सिर्फ 3 यूनिट रही थी। ऐसे में 2020 के मुकाबले इसमें भारी वृद्धि दर्ज की गयी है।

Bajaj Auto ने इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन के लिए पुणे में एक नया प्लांट खोलने का निर्णय लिया है, कंपनी इस फैक्ट्री को स्थापित करने के लिए 300 करोड़ रुपये का निवेश करने वाली है।

यहां पर मुख्य रूप से चेतक इलेक्ट्रिक स्कूटर का निर्माण किया जाएगा, कंपनी की नई फैक्ट्री में इलेक्ट्रिक वाहनों का उत्पादन जून 2022 से शुरू किया जाएगा और यहां के वाहनों भारत में बेचने के साथ- साथ विदेशों में भी भेजा जाएगा। इसकी क्षमता 500, 000 ईवी प्रतिवर्ष रहने वाली है।

बात करें टीवीएस आईक्यूब की बिक्री की तो दिसंबर 2021 महीने में 1212 यूनिट की बिक्री की गयी है जो कि दिसंबर 2020 के 58 यूनिट के मुकाबले बेहतरीन है। ऐसे में इस इलेक्ट्रिक स्कूटर ने यह प्रतिस्पर्धा जीत लिया है और बेहतर परफॉर्म कर रही है।

टीवीएस मोटर्स भी इलेक्ट्रिक वाहन के उत्पादन के लिए तमिलनाडु में प्लांट लगाने वाली है, इलेक्ट्रिक वाहन निर्माण फेसेलिटी स्थापित करने के लिए तमिलनाडु सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है।

मौजूदा समय में TVS Motor के पास ईवी श्रेणी में केवल एक इलेक्ट्रिक वाहन TVS iQube है, इस इलेक्ट्रिक स्कूटर को जनवरी 2020 में लाया गया था। इस इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत 1 लाख रुपये से थोड़ी अधिक है और यह देश भर के 33 शहरों में उपलब्ध है।

कंपनी नए प्लांट में इस इलेक्ट्रिक स्कूटर का निर्माण करने वाली है, ऐसे में इसका उत्पादन और बेहतर हो जाएगा।

बजाज ऑटो अपनी चेतक इलेक्ट्रिक स्कूटर के निर्माण का स्थानीकरण करने की योजना बना रही है।

कंपनी का कहना है कि कोरोना महामारी के चलते उत्पन्न आपूर्ति श्रृंखिला में रुकावट के चलते इलेक्ट्रिक स्कूटरों की कल पुर्जों की आपूर्ति बाधित है, जिसके चलते कंपनी स्कूटरों का निर्माण तय संख्या में करने में असमर्थ है।

हालांकि, अब वाहन बाजार के सामान्य होने पर कपनी पूरी क्षमता के साथ काम कर रही है।

बजाज का ने कहा ही कि वह जल्द ही इलेक्ट्रिक स्कूटर में लगने वाले मोटर और बैटरी जैसे कुछ महत्वपूर्ण उपकरणों को घरेलू निर्माताओं से खरीदना शुरू करेगी।

कंपनी ने बताया है कि निर्माण में स्थानीयकरण बढ़ने से लागत में कमी आएगी और बाजार में स्कूटरों की कीमत अधिक प्रतिस्पर्धी तय की जा सकती है।

नई निर्माण नीतियों के तहत बनाई गई चेतक इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत मौजूदा मॉडल की तुलना में कम हो सकती है। कपनी का दावा है कि वह जल्द ही चटक के नए मॉडल को कुछ अपडेट के साथ बाजार में लॉन्च करेगी।

एक रिपोर्ट के मुताबिक नई चेतक स्कूटर में 2।884 kWh की बैटरी लगाई जाएगी। इसमें लगा इलेक्ट्रिक मोटर 4.2 kW का पॉवर जनरेट करेगा, वहीं स्कूटर की टॉप स्पीड 60 किलोमीटर प्रति घंटा होगी।

बजाज चेतक और टीवीएस आईक्यूब मुख्य प्रतिस्पर्धी है और इनकी बिक्री शानदार रही है, भले ही चेतक थोड़ी पीछे रह गयी है लेकिन इसकी बिक्री भी संतोषजनक है। अब आने वाले महीनों में देखना होगा कि कौन सी स्कूटर इन्हें टक्कर देती है।

पूरी कहानी देखें