एथर भारत के इस राज्य में लगाएगी 1,000 रैपिड चार्जिंग स्टेशन, मिनटों में चार्ज होंगे इलेक्ट्रिक वाहन

Drive Spark via Dailyhunt

एथर एनर्जी ने कर्नाटक में 1,000 फास्ट चार्जिंग स्टेशन लगाने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है। घरेलू इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता देश भर में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए फास्ट चार्जिंग स्टेशन का निर्माण कर रही है।

पिछले महीने, कंपनी ने नागपुर और लखनऊ में बिक्री शुरू करने के साथ उत्तर भारत में अपने पदचिह्न का विस्तार किया।

भारत में एथर एनर्जी का मुकबला ओला इलेक्ट्रिक और हीरो इलेक्ट्रिक के साथ ही पारंपरिक बाइक निर्माता जैसे बजाज ऑटो और टीवीएस मोटर से भी है, जो अपने इलेक्ट्रिक वाहन योजनाओं का विस्तार कर रहे हैं।

सॉफ्ट बैंक समर्थित ओला इलेक्ट्रिक ने हाल ही में 200 मिलियन डॉलर का निवेश हासिल किया है।

वहीं, एथर एनर्जी को देश की सबसे बड़ी बाइक और स्कूटर निर्माता, हीरो मोटोकॉर्प का समर्थन प्राप्त है। हाल ही में, हीरो मोटोकॉर्प के बोर्ड ने एथर एनर्जी में ₹420 करोड़ के नए निवेश को मंजूरी दी है।

2013 में अपनी स्थापना के बाद से अब तक एथर एनर्जी ने लगभग 12 अरब रुपये ( 160 मिलियन डॉलर) जुटाए हैं।

हाल ही में मेहता ने कहा था कि एथर ने 2022 के अंत तक अपनी वार्षिक उत्पादन क्षमता को 4 लाख से बढ़ाकर 10 लाख स्कूटर करने की योजना बनाई है, साथ ही नए उत्पादों को विकसित करते हुए पूरे भारत में 5,000 फास्ट चार्जर स्थापित करने की योजना बनाई है।

उन्होंने कहा कि यह सब अगले तीन वर्षों में किया जाएगा। वर्तमान में एथर प्रति माह लगभग 5,000 इलेक्ट्रिक स्कूटर बनाती है, विस्तार के साथ इस साल से इसे बढ़ाकर 20,000 स्कूटर प्रति माह करने की योजना है।

कंपनी ने बताया है कि उसके इलेक्ट्रिक स्कूटरों की मांग पिछले साल पांच गुना बढ़ गई है। जिसका मुख्य कारण पिछले साल पेट्रोल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि है जिसके वजह से इलेक्ट्रिक वाहन पेट्रोल के चलने वाले पारंपरिक वाहनों का बेहतर विकल्प बन गए हैं।

इसके अलावा सरकार के तरफ से प्रोत्साहन के तौर पर दी जाने वाली सब्सिडी ने इलेक्ट्रिक और पेट्रोल स्कूटर मॉडल के बीच कीमतों के अंतर को कम कर दिया है। पिछले महीने कंपनी ने 2,825 इलेक्ट्रिक स्कूटरों की बिक्री की है।

स्कूटरों की बढ़ती मांग को पूरा कर के लिए एथर एनर्जी तमिलनाडु के होसुर में नया प्लांट लगाने जा रही है। इस नए प्लांट में उत्पादन शुरू होने के बाद कंपनी की कुल उत्पादन क्षमता 4 लाख यूनिट प्रतिवर्ष की होगी।

वर्तमान में, कंपनी एक प्लांट के माध्यम से प्रतिवर्ष 1.20 लाख यूनिट स्कूटरों के उत्पादन की क्षमता रखती है।

कंपनी वर्तमान में दो इलेक्ट्रिक स्कूटरों- 450 X और 450 Pl us को पेश करती है। Ather 450 X कपंनी की फ्लैगशिप स्कूटर है। इसमें 2.9 kwh की लिथियम आयन बैटरी पैक के साथ 6kW का इलेक्ट्रिक मोटर दिया गया है।

यह मोटर 8 बीएचपी की अधिकतम पॉवर और 26 न्यूटन मीटर का पीक टॉर्क जनरेट करता है।

यह स्कूटर केवल 3.3 सेकंड में 0 - 40 किमी/ घंटा की रफ्तार हासिल कर लेती है। इस इलेक्ट्रिक स्कूटर को एक बार फुल चार्ज करने पर 116 Km तक चलाया जा सकता है। इसमें दो ड्राइव मोड दिए गए हैं, जिसमें राइड और ईको मोड शामिल हैं।

ईको मोड में यह इलेक्ट्रिक स्कूटर 85 किलोमीटर तक चलाई जा सकती है। जबकि राइड मोड में यह 75 किलोमीटर तक चलती है।

भारत के प्रमुख शहरों में एथर एनर्जी अपने रिटेल स्टोर का विस्तार कर रही है और वर्तमान में 25 खुदरा स्टोरों के साथ 21 शहरों में मौजूद है। कंपनी ने मार्च 2023 तक 150 अनुभव केंद्रों के साथ 100 शहरों में विस्तार करने का लक्ष्य रखा है।

कंपनी अब तक देश के 22 से अधिक शहरों और 220 से अधिक स्थानों पर इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के लिए एथर ग्रिड चार्जिंग स्टेशन लगा चुकी है। वहीं 2022 तक 500 नए स्थानों में चार्जिंग ग्रिड स्थापित करने की योजना पर काम कर रही है।

पूरी कहानी देखें