केला ही नहीं केले की जड़ खाने से भी होते हैं कई फायदे, हाई बीपी का है कुदरती है इलाज

Boldsky via Dailyhunt

केले की जड़ को पोषक तत्वों से भरपूर बताया जाता है। इसमें विटामिन ए, बी और सेरोटोनिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

केले की जड़ कई तरह से आंखों के लिए सही मानी जाती है। केले की जड़ में विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जिसके सेवन से आंखों को स्वस्थ रखने में काफी मदद मिल सकती है। आप केले की जड़ों से बना काढ़ा भी ले सकते हैं।

आप चाहें तो इसे सामान्य रूप से भी खा सकते हैं। इसके नियमित सेवन से आंखों को और भी कई फायदे मिलते हैं।

कहा जाता है कि हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों के लिए भी केले की जड़ फायदेमंद होती है। इसके नियमित सेवन से रक्तचाप को नियंत्रित करने में काफी मदद मिल सकती है। इसके लिए आप केले की जड़ को पानी में उबालकर सुबह- शाम पी सकते हैं।

इसके नियमित सेवन से काफी राहत मिलती है। वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर- पूर्व के लोग केले की जड़ को सब्जी के रूप में भी खाते हैं।

अगर आप अस्थमा से परेशान हैं तो केले की जड़ का सेवन कर सकते हैं। केले की जड़ में ज्वरनाशक गुण पाए जाते हैं, जो श्वसन रोगों के लिए सही माने जाते हैं।

अगर आप कम से कम एक सौ ग्राम ताजा केले की जड़ को हफ्ते में दो से तीन बार पानी में उबाल लें, तो आपको बहुत जल्द आराम मिल सकता है।

कहा जाता है कि केले की जड़ों में डोपामिन की मात्रा अधिक होती है, जिसके सेवन से पेट की बीमारी को ठीक करने में मदद मिलती है। इसका सेवन करने से पेट में गैस्ट्रिक एसिड को रोकने में भी मदद मिलती है। आप इसे काढ़े के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

केले की जड़ का रस मधुमेह के रोगियों के लिए भी बहुत ही उपयोगी माना जाता है। ये शरीर में इन्सुलिन की मात्रा को नियंत्रित रखता है। इसकी कडवाहट मधुमेह का इलाज होती है। मधुमेह का नियंत्रित रखना गुर्दे के लिए आवश्यक होता है।

केले की जड़ का रस पीकर एसिडिटी की समस्या को कम किया जा सकता है। जिनको एसिडिटी की समस्या होती है उनके लिए केले की जड़ का रस बहुत लाभदायक होता है। ये छाती की जलन और तकलीफ से राहत देता है। नोट: यह लेख सिर्फ आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए है।

इस संबंध में आपको एक बार डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

पूरी कहानी देखें