लता मंगेशकर को क्रिकेट से था बेहद प्यार, फ्री में किया बड़ा काम लुटा दिए लाखों, बन गया इतिहास

Filmi Beat via Dailyhunt

भारत की स्वर कोकिला लता मंगेशकर केवल संगीत प्रेमी नहीं बल्कि क्रिकेट से भी उन्हें काफी लगाव रहा है। लता मंगेशकर ने विश्व विजेता भारतीय क्रिकेट टीम को एक ऐसा तोहफा दिया जो कि हमेशा के लिए यादगार बन गया।

आज भले ही बीसीसीआई के पास अपने खिलाड़ियों और क्रिकेट खेल के लिए पैसे की कमी नहीं है। लेकिन उस दौरान बीसीसीआई के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह अपनी क्रिकेट टीम का सम्मान कर सके।

1983 के मैच के फाइनल के बाद बीसीसीआई के तत्कालीन अध्यक्ष एनकेपी साल्वे ने लता मंगेशकर से मुलाकात की।

साल्वे ने लता जी से कहा कि वह दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में एक संगीत का कंसर्ट करे। लता दीदी ने बिना किसी सवाल के क्रिकेट के लिए अपने खिलाड़ियों के लिए ऐसा किया।

लता दीदी जब अपनी आवाज को सबसे सामने रखती हैं तो भीड़ क्या होती है इससे दोहराने की जरूरत नहीं है।

प्रोग्राम सुपरहिट रहा। सुनील गावस्कर और कपिल देव भी इस प्रोग्राम में लता दीदी के साथ खड़े रहे। खिलाड़ियों ने भी गाना गाया। इसके बाद इस प्रोग्राम से 20 लाख मिले वह सभी क्रिकेटर्स को इनाम के तौर पर दिया गया।

इस कमाई से भारतीय टीम के सभी सदस्यों को पुरस्कार के तौर पर 1 - 1 लाख रुपए दिए गए।

क्रिकेट में लता दीदी के सबसे पसंदीदा खिलाड़ी महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर हुआ करते थे। सचिन तेंदुलकर का हर मैच लता मंगेशकर देखा करती थीं। इसके साथ कपिल देव, सुनील गावस्कर और महेंद्र सिंह धोनी भी लता जी के पसंदीदा खिलाड़ियों में शामिल रहे हैं।

पूरी कहानी देखें