लता मंगेशकर की अंतिम यात्रा शुरू, विदाई देने सड़कों पर उतरे हजारों लोग, प्रधानमंत्री भी पहुंचे मुंबई - PICS

Filmi Beat via Dailyhunt

लता मंगेशकर ने 6 फरवरी को मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में अंतिम सांस ली। उनके निधन की खबर से पूरे देश में शोक की लहर है।

लता जी के घर प्रभु कुंज के बाहर उन्हें सलामी देते हुए सेना और पुलिस के जवान। आर्मी, नेवी, एयरफोर्स और पुलिस के जवानों ने लता जी के पार्थिव शरीर को कंधा दिया।

शिवाजी पार्क में लता जी के अंतिम दर्शन के लिए लोगों की भीड़ लगी हुई है। लता जी को अंतिम विदाई देने हजारों की संख्या में आम लोग मुंबई की सड़कों पर उतर आए।

राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार भारत रत्न लता मंगेशकर को उनके निवास से शिवाजी पार्क ले जाते हैं सैन्य बलों के जवान। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लता मंगेशकर के राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार का आदेश दिया है।

भारत रत्न लता मंगेशकर के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने कल ( 7 फरवरी) को घोषित किया है। पश्चिम बंगाल सरकार गायिका लता मंगेशकर के सम्मान में कल ( 7 फरवरी) आधे दिन की छुट्टी मनाएगी।

लता जी की पार्थिव देह दोपहर करीब 1.10 बजे प्रभु कुंज स्थित उनके घर पहुंचा था। जिसके बाद कई सेलेब्स उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे। अमिताभ बच्चन, श्रद्धा कपूर, संजय लीला भंसाली, सचिन तेंदुलकर, अनुपम खेर समेत कई सितारे लता जी के घर पहुंचे थे।

लता जी के में कई VVIP पहुंचेंगे, लिहाजा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर का 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उन्हें 11 जनवरी को कोविड से संक्रमित पाने के बाद ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

कोरोना के साथ साथ वो निमोनिया से भी जूझ रही थीं। उन्हें लगातार आईसीयू में वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा जा रहा था। वह 24 घंटे डॉक्टर्स की निगरानी पर थीं, लेकिन धीरे धीरे उनकी हालत नाजुक होती गई और 6 फरवरी को सुबह लगभग 8 बजे गायिका ने अपनी आखिरी सांसे लीं।

पूरी कहानी देखें